रविवार, मई 18, 2014

मासिक राशिफल--जून-2014 , जुलाई -2014 एवं अगस्त -2014

मासिक राशिफल--जून-2014 , जुलाई -2014  एवं अगस्त -2014 
-------------------------------------------------------------------------------------------------
मासिक राशिफल, जून-2014 

==नोट-ध्यान देवें—
यह राशिफल -फलादेश,गोचर तथा नाम राशि के आधार पर दिया गया हैं,पाठक अपनी जन्म कुंडली में स्थित दशा -महादशा एवं ग्रहफल को प्राथमिकता देवें..

शुभम भवतु..कल्याण हो….

लेखक – पंडित दयानंद शास्त्री,मोब.–09669290067 एवं 09024390067 
==============================================================
जिज्ञाशु ज्योतिष प्रेमियों के लिए - कैसे जाने अपना राशिफल...???
यह मासिक कुण्डली पूर्वानुमान जून 2014 वैदिक विश्लेषण चन्द्र राशि आधारित राशिफल है। 
वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा को अत्यन्त महत्ता दी गयी है। “ चन्द्रमा मनसो जात:” ज्योतिष में चन्द्रमा को मन का कारक माना गया है। चूंकि चन्द्रमा पृथ्वी के सबसे नजदीक ग्रह है। सभी ग्रहों का चुम्बकीय प्रभाव चन्द्रमा के माध्यम से ही पृथ्वी पृथ्वी पर पहुँचता है। मस्तिष्क का नेतृत्व भी चन्द्रमा के द्वारा ही किया जाता है। इन्ही कारणो से भारतीय वैदिक ज्योतिष में चन्द्र राशि को अत्यंत महत्ता दी गयी है। यदि विंशोतरी दशा शुभ चल रही हो तो शुभ प्रभावों में वृद्धि हो जायेगी, अन्यथा यह क्रम विपरीत होगा। आपके जन्म समय चन्द्रमा जिस राशि में थे, वही आपकी राशि कहलायेगी, अत: दिये गये बारह राशियों के राशिफल को तदनुरुप ही अपने लिए माने। प्रत्येक राशि के साथ आपका प्रारंभिक नाम जन्माक्षर दिया जा रहा है अत: जन्माक्षर अनुसार ही अपना राशिफल पढ़े। सम्पूर्ण शुभकामनाओं सहित। 
=============================================================== 
मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ।---
वृषभ (Taurus) उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो। ---
मिथुन (Gemini) क, की, कू, घ, ड, छ, के, को, हा।---
कर्क (Cancer) ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो।----
सिंह (Leo) मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे।---
कन्या (Virgo) टो, पा, पू, ष, ण, ठ, पे, पी।---
तुला (Libra) रा, री, रू, रे, ता, ती, तू, ते----
वृशिचक (Scorpio) तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू।---
धनु (Sagittarius) ये, यो, भ, भी, भू, धा, फा, ढा, भे।----
मकर (Capricorn) भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, ग, गी।---
कुंभ (Aquarius) गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा। ---
मीन (Pisces) दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची।----
==================================================
मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ।
--मेष राशि वाले जातको के लिए इस माह में भूमि भवन संबधी कार्य मे सफलता संभव है। दैनिक रहन सहन असुविधाजनक रहेगा। लाभ के अवसर मिलेगे। 
इस माह व्यावसायिक मामलों में मनोनुकूल सफलता नही मिल पायेगी। नवीन मित्रों का आगमन होगा। शत्रु पक्ष से हानि होगी। राजकीय कार्यों में भय की स्थितियाँ आयेंगी। माह में अनावश्यक व्यय की अधिकता रहेगी। भौतिक सुख-सुविधाओं पर व्यय होगा। यात्राओं की अधिकता रहेगी। संतान पक्ष से सुख मिलेगा। मास में गुस्से की अधिकता रहेगी। घरेलू विवाद की स्थितियाँ आयेंगी। उत्तरार्ध में आजीविका क्षेत्र में मनोनुकूल सुधार होगा। समाज में मान सम्मान बढ़ेगा। आजीविका क्षेत्र में कुछ नया परीक्षण करेंगे। कुल मिलाकर धन की आवक अच्छी रहेगी। दवाइयों पर व्यय बढ़ेगा। गुप्तांग एलर्जी, अपच, अजीर्ण की स्थितियाँ आयेंगी। माता का स्वास्थ्य ठीक रहेगा किंतु जीवन साथी के स्वास्थ्य के कारण चिंतित रहेंगे। 
इस वर्ष जून माह की 5, 7, 16, 23 एवम 25 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- भगवान श्री राम जी के दर्शन करे। लाभकारी रहेगा।   

वृषभ (Taurus) उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो। 
--वृषभ राशि वाले जातको के लिए इस माह मन मे आशा का संचार होगा। रोजगार का अवसर मिलेगा। धर्म के प्रति श्रद्वा बढ़ेगी। स्वास्थ्य के प्रति सर्तक रहे। 
इस माह मांगलिक कार्यों या धार्मिक कार्यों पर व्यय अधिक होगा। विधार्थी वर्ग को प्रतियोगिता में सफलता मिलेगी। पारिवारिक सहयोग बढ़ेगा। व्यापारिक कार्यों में आशातीत सफलता नहीं मिलेगी। नित्य कार्यों में शिथिलता रहेगी। राजकीय कार्यों में सफलता मिलेगी। मास में किये गये असाधारण प्रयास कार्योंन्नति में भविष्य में लाभप्रद होंगे। उत्तरार्ध में उच्च वर्ग से सम्पर्क होगा। सामाजिक मान सम्मान बढ़ेगा। बड़ी यात्रा संभव। स्वजनो का आशा से अधिक सहयोग मिलेगा। किसी पुराने विवाद को सुलझाने में सफलता मिलेगी। कानूनी मामलों में विजय मिलेगी। पूर्व में की गयी लापरवाही का आपको बड़ा मलाल रहेगा, क्योंकि इस कारण आपको इस समय बड़ी हानि होगी। मन में उदासी का भाव रहेगा। ऋण प्रबन्धन की आवश्यकता पड़ेगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह कष्टप्रद रहेगा। इन्फैक्शन, वायरल आदि से सावधानी रखनी चाहिए। 

इस वर्ष जून माह की 1, 11, 13, 20 एवम 21 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह का विशेष उपाय:- भगवान शानि देव को तेल चढाए। लाभदायक रहेगा।  

मिथुन (Gemini) क, की, कू, घ, ड, छ, के, को, हा।
--मिथुन राशि वाले जातको के लिए इस माह यात्रा मे अपने सामान के प्रति सचेत रहे चोरी या खोने की संभावना है, कार्य क्षेत्र मे व्यस्तता बढ़ेगी। अफसरो का सहयोग मिलेगा। 
इस माह संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। भूमि-भवन से लाभ होगा। अत्यधिक कार्य व्यस्तता रहेगी। यदि आप बेरोजगार है तो इस माह मे रोजगार के अवसर आयेंगे। भौतिक संसाधनों की वृद्धि होगी। किन्ही कारणवश मानसिक अशांति एवं पारिवारिक क्लेश की भी स्थितियाँ आयेंगी। शत्रु पक्ष हानि पहुँचाने का प्रयास करेगा। यह माह आपकी परख का भी होगा। निकटतम लोगो से वांछित सहयोग मिलेगा। साझेदारी कार्यों में लाभ होगा। नवीन कार्य व्यवसाय स्थापित करेंगे। उत्तरार्ध में आपको वांछित परिणाम दिखेगे। ऋण प्रबन्धन की भी स्तिथियाँ आयेंगी। यात्राओं की अधिकता रहेगी। जमा पूंजी में वृद्धि होगी। निवेश लाभप्रद रहेगा। धार्मिक क्रिया कलापों में भी वृद्धि होगी। जीवनसाथी के स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहेंगे। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह ठीक-ठाक जायेगा। दवाओ पर व्यय में कमी आयेगी। उच्चाधिकारियों, वरिष्ठजनों का सहयोग मिलेगा। राजकीय कार्यों में सफलता मिलेगी। 

इस वर्ष जून माह की 4, 6, 15, 22 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- चींटियो का आटे कि पंजीरी खिलाए। लाभकारी रहेगा। 

कर्क (Cancer) ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो।
--कर्क राशि वाले जातको के लिए इस माह शिक्षा मे सफलता मिलेगी, छोटे भाईयो से मतभेद बढ़ेगे। प्रापर्टी मे निवेश करेगे। वाहन सुख बढ़ेगा। 
इस माह पारिवारिक सामंजस्य में कमी आयेगी। उच्चाधिकारियों से सहयोग मिलेगा। कार्य क्षेत्र में उत्साह में वृद्धि होगी। व्यर्थ में विवाद की स्तिथियाँ उत्पन्न होगी। मित्र वर्ग के पास सहयोग हेतु जायेंगे। राजकीय पक्ष से लाभ होगा। शत्रु पक्ष की प्रबलता दिखेगी। आय के नवीन स्त्रोत बनेंगे। घरेलू परेशानियाँ मास पर्यंत परेशान करेंगी। व्यावसायिक कार्यों में गति आयेगी। आप सफलता हेतु अथक प्रयास भी करेगे। या़त्रा में सावधानी रखे। खर्चीली व्यावसायिक यात्रा होगी। अनावश्यक समस्याओं के कारण अपने लक्ष्य से भटक जायेंगे। एकाग्रता भंग होगी। मित्रवर्ग के कारण भी कुछ वातावरण दूषित होगा। व्यावसायिक दृष्टि से कुछ नया करने की आवश्यकता पड़ेगी। मासांत में कही जाकर कुछ परिस्थितियाँ अनुकूल होंगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह कुछ प्रतिकूल जायेगा। उच्चाटन, मानसिक अशांति, उदर विकार के कारण पीडि़त रहेंगे। 

इस वर्ष जून माह की 2, 9, 11, 20 एवम 28 तारीखे नेष्ट फलदायक है अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह का विशेष उपाय:- पक्षियों को दाना खिलाएं। लाभकारी रहेगा। 

सिंह (Leo) मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे। 
 --सिंह राशि वाले जातको के लिए इस माह आपको अपने गुस्से पर कंट्रोल रखना होगा और परेशानी आने  पर भी परेशान न हो। रोजगार प्राप्ति का अवसर मिलेगा। प्रियजन से भेंट होगी। 
इस माह व्यापारिक गतिविधियाँ मध्यम रहेंगी। यदि आप बेरोजगार हैं तो रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे। भाग्य में वृद्धि होगी। विदेश यात्रा के योग बनेगे। पारिवारिक दायित्वों में वृद्धि होगी। आप आशा से अधिक प्राप्ति की इच्छा रखेंगे। आपके उत्साहवर्धन हेतु आपके मित्र आगे आयेंगे। स्वर्ण-चाँदी आदि में किया गया निवेश लाभकारी होगा। जमापूंजी में वृद्धि होगी। मन में अनजाने भय के कारण कार्य व्यवसाय प्रभावित होगा। उत्तरार्द्ध में मित्रवर्ग में कुछ वातावरण दूषित होगा। आपको मिल जुल कर कार्य करने की आवश्यकता है। संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। भागीदारी कार्य लाभप्रद सिद्ध होगा। यदा-कदा जीवन साथी से वाद-विवाद की स्तिथियाँ आयेंगी। राजकीय कार्यों में लाभ होगा। छोटी-छोटी यात्रायें होंगी। स्वास्थ्य की दृष्टि से स्तिथियाँ सामान्य रहेंगी। मासांत में कार्य सम्पादन की गति धीमी रहेगी। 

इस वर्ष जून माह की 15, 17, 25, 26 एवम 27 तारीखें नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- गणपति मंदिर मे चने कि दाल दान करे। लाभकारी रहेगा। 

कन्या (Virgo) टो, पा, पू, ष, ण, ठ, पे, पी। 
--कन्या राशि वाले जातको के लिए इस माह नौकरी मे अधिकारी पक्ष अनुकूल रहेगा। ,खान पान मे संयम रखे। घर और आफिस कि नये तरह से साज सज्जा करेगे। दैनिक कामो मे बाधा आयेगी। 
इस माह व्यापारिक कार्य साधारण चलेगा। नवीन गृह निर्माण का भी योग बन रहा है। भूमि-भवन का लाभ होगा। नये वाहन क्रय का भी विचार आयेगा। धन प्राप्ति के अच्छे योग निर्मित होगे। व्यर्थ वाद-विवाद से बचना चाहिए। समाज में आपकी प्रतिष्ठा बढ़ेगी। सामाजिक सेवा हेतु आप पुरस्कृत भी किये जायेंगे। जीवन साथी से अनावश्यक वाद-विवाद की स्तिथियाँ आयेंगी। विधार्थी वर्ग को प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता मिलेगी। यह माह आपके व्यक्तित्व निर्माण हेतु उत्तम कहा जा सकता है। आपकी ख्याती बढ़ेगी। व्यवसाय में आप नवीन प्रयोग करेंगे, जो सफल भी होंगे। आपका विशेष कौशल आपको सफलता की ऊचार्इयाँ देगा। प्रथमार्ध जहाँ साधारण था वही उत्तरार्ध शानदार जायेगा। अतिरिक्त उत्तरदायित्व भी आपके पास आयेगा। मास पर्यंत उत्साह वर्धन से स्वास्थ्य ठीक रहेगा। 
इस वर्ष जून माह की 3, 11, 13, 21, 23 एवम 30 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- गरीबो को श्रद्वा अनुसार वस्त्र दान करे। लाभकारी रहेगा।  

तुला (Libra) रा, री, रू, रे, ता, ती, तू, ते।
--तुला राशि वाले जातको के लिए इस माह किसी घटना को लेकर परेशान रहेगे। आत्मबल मे कमी मान-सम्मान कि चिंता रहेगी। व्यवसाय मे सफलता व धन लाभ मे वृद्वि होगी।
इस माह व्यापारिक कार्यों में शिथिलता देखने को मिलेगी। मानसिक अशांति का आभास होगा। शत्रु पक्ष बार-बार हानि पहुँचाने की चेष्टा करेगा। धार्मिक कार्यों में व्यय होगा। संतान के संबंध में शंका, चिंता दूर होगी। कर्इ बार अकारण धन हानि का सामना करना पड़ेगा। यह माह आपके लिए व्यापारिक परिवर्तन भी लेकर आयेगा। प्रथमार्ध की अपेक्षा उत्तरार्द्ध कुछ ठीक जायेगा जबकि मासांत में अतिरिक्त सुधार की आशा की जा सकती है। पैतृक सम्पत्ति से लाभ होगा। वाहन चलाने में सावधानी रखें। अचानक यात्रायें होंगी। राजकीय कार्यों में बाधायें आयेंगी। व्यावसायिक मामलों में आपको तेज गति से निर्णय लेने होंगे। आपको व्यवसायिक क्षेत्र में वृह्द रुप में कार्यशैली में परिवर्तन की आवश्यकता है। मासांत में हर कार्य आसान सा महसूस होगा। पारिवारिक स्तिथि सामान्यत: अच्छी रहेगी। नये सम्पर्क बनेंगे। यह माह आपको समाज में प्रतिष्ठा भी दिलायेगा। अत्यधिक भाग दौड़ से स्वास्थ्य प्रभावित होगा। 
इस वर्ष जून माह की 1, 8, 10, 19, 20 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।  

इस माह का विशेष उपाय:- श्री कृष्ण मंदिर मे  बासुरी भेंट करे। लाभकारी  रहेगा। 

वृशिचक (Scorpio) तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू।
--वृश्चिक राशि वाले जातको के लिए इस माह शिक्षा के क्षेंत्र मे सफलता मिलेगी। किसी रिस्तेदार के आने से मन प्रसन्न दौड़-धूप अधिक रहेगी, विरोधी पक्ष से परेशानी रहेगी।
इस माह कार्य क्षेत्र में प्रगति होगी। मित्रवर्ग का वांछित सहयोग मिलेगा। नवीन कार्यों में मित्रवर्ग के अनुभवो की प्राप्ति से कार्य सफलता बढ़ेगी। पारिवारिक आमोद-प्रमोद बढ़ेगा। समाज में सम्मान प्राप्त होगा, प्रतिष्ठा बढ़ेगी। वाहन प्राप्ति का भी योग बन रहा हैं। भूमि-भवन के क्रय-विक्रय में सावधानी अपेक्षित है। विरोधी सक्रिय रहेंगे किंतु बिगाड़ कुछ नही पायेंगे। धार्मिक यात्रा का योग बनेगा। भाग्य आपका साथ देगा। प्रथमार्ध में जहाँ आपको शक्ति परीक्षण से गुजरना होगा वहीं उत्तरार्द्ध में मासांत तक परिस्थितियां सार्थक दिखेंगी। नवीन व्यवसाय के प्रस्ताव प्राप्त होंगे। इस माह व्यावसायिक मामलों में मनोनुकूल सफलता मिलेगी। पूरे मास में छोटी-बड़ी यात्राओं की अधिकता रहेंगी। यदि आप नौकरी करते है तो उच्चाधिकारियों की अनुकम्पा होगी। उच्चाटन, मानसिक तनाव, पित्त विकार एवम चर्म रोग संबंधी छोटी मोटी स्वास्थ्य संबंधी परेशानियाँ होंगी। इस वर्ष जून माह की 15, 24, 25 एवम 29 तारीखे नेष्ट फलदायक है अत: सावधान रहना चाहिए।  

इस माह का विशेष उपाय:- भगवान विष्णु का पीले फूलो कि माला अर्पित करे। लाभकारी रहेगा। 

धनु (Sagittarius) ये, यो, भ, भी, भू, धा, फा, ढा, भे। 
--धनु राशि वाले जातको के लिए इस माह निजी संबंधो मे गर्मजोशी आयेगी। जीवन साथी के करीब आयेगे। चल तथा अचल सम्पति मे वृद्वि होगी। जारी प्रयास असफल होगे।
इस माह परिश्रम की अधिकता एवम फल प्राप्ति कम होगी। मास में अनावश्यक यात्राऐं होंगी जिनमें मात्र फिजूल खर्ची ही होगी। मांगलिक कार्यों में व्यय होगा। परिवार एवं मित्रवर्ग से वांछित सहयोग मिलेगा। जल्दबाजी में किया गया निर्णय कष्टप्रद होगा। कहीं से अशुभ सूचना की प्राप्ति होगी। वाहन चलाने में सावधानी रखनी चाहिए। इस माह आप कार्य सफलता हेतु असाधारण कोशिश करेंगे जिसकी स्वयं आपने भी कल्पना नहीं की होगी। विगत में चल रही आर्थिक स्थितियों में राहत मिलेगी। विभिन्न स्थानों से आपको वांछित सहयोग मिलेगा। खासकर बुजुर्गो का सहयोग अत्यंत कारगर होगा। पूर्वार्ध जहाँ अच्छा जायेंगा, वहीं उत्तरार्द्ध में कुछ गतिरोध आयेंगे। पुन: मासांत में स्तिथियाँ अनुकूल होगी। मासांत में घर-परिवार में कुछ परिस्थितियां प्रतिकूल रहेंगी। व्यावसायिक स्पर्धा आपके पक्ष में जायेगी। 

इस वर्ष जून माह की 1, 12, 13, 19 एवम 22 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- केले के वृक्ष की पूजा करे। लाभकारी रहेगा। 

मकर (Capricorn) भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, ग, गी।
--मकर राशि वाले जातको के लिए इस माह में कई रहस्यों का खुलासा होगा। महत्वपूर्ण लोग मिलने आयेगे। आप कोई बड़ी उपलब्धि हासिल नही कर पायेगे।
इस माह बारम्बार आर्थिक लाभ की स्थितियाँ उत्पन्न होंगी। राजकीय कार्यों में लाभ होगा। मास पर्यंत व्यय की अधिकता रहेगी। कहीं से शुभ समाचार प्राप्त होगा। संतान पक्ष से सुखद परिणाम मिलेंगे। यदि आप नौकरी में हैं तो उच्चाधिकारियों का वांछित सहयोग मिलेगा। इस माह आप अच्छे कार्य करने उपरांत भी दबाव में होंगे। कर्इ बार अनिर्णय की स्थितियाँ आयेंगी। सहयोगियों से काम लेने में मुश्किलें आयेंगी। लोकप्रियता हेतु आप बहुत कुछ करेंगे किंतु आंशिक सफलता मिलेगी। उत्तरार्द्ध में कार्य सम्पन्नता की गति धीमी पड़ जायेगी। कुछ बड़े व्यावसायिक निर्णय आपको टालने पड़ेगे। उतरार्ध में जहाँ आर्थिक लाभ की गति कम होगी वही मासांत अच्छा जायेगा। रिश्तो में मधुरता बनी रहेगी। माता के स्वास्थ्य के कारण चिंतित होंगे। स्वास्थ्य नरम रहेगा। व्यावसायिक अव्यवस्था के कारण मानसिक तनाव भी रहेगा। 

इस वर्ष जून माह की 7, 8, 17, 24 एवम 25 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह का विशेष उपाय:- माता पार्वती के मंदिर मे श्रृंगार की वस्तुए किसी कन्या को दान करे। लाभकारी रहेगा।

कुंभ (Aquarius) गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा। 
--कुंभ राशि वाले जातको के लिए इस माह में  आप इधर-उधर की बातों मे अपना समय बर्बाद न करे, सामाजिक कार्यो मे बहुत ज्यादा व्यस्त रहेगे। भौतिक एवं आर्थिक मामलो मे  कोई लक्ष्य हासिल नही होगे।
इस माह आपका सामाजिक मान-सम्मान बढ़ेगा। समाज मे किसी कार्य विशेष हेतु आपको सम्मानित किया जायेगा। उच्चाधिकारियों अथवा नामी हस्तियों से मिलना होगा। शत्रु पक्ष द्वारा कर्इ बार हानि पहुँचाने की चेष्टा की जायेगी, किंतु कुछ भी नहीं किया जा सकेगा। मित्रवर्ग से मनोनुकूल सहयोग मिलेगा। मास में की गयी यात्रायें लाभदायक होंगी। साझेदारी कार्यों में वैमनस्य की स्तिथियाँ आयेंगी। कानूनी समस्याओं का समाधान मिलेगा। कोर्ट-कचहरी में विजय मिलेंगी। यदि आप संतान प्राप्ति की इच्छा रखते है तो सफलता मिलेगी। विधार्थी वर्ग को शिक्षा प्रतियोगिता के क्षेत्र में मनोनुकूल सफलता मिलेगी। यह मास आपको बहुत अवसर देने वाला भी साबित होगा। संशाधनो की कही भी कोर्इ कमी महसूस नहीं होंगी। सामाजिक मान-सम्मान, प्रतिष्ठा से जनसम्पर्क भी बढ़ेगा। व्यावसायिक रुप से यह महीना श्रेष्ठ कहा जा सकता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से छोटी-मोटी तकलीफें रहेंगी। जीवन साथी के स्वास्थ्य के कारण भी चिंतित रहेंगे। 

इस वर्ष जून माह की 1, 3, 12, 14 एवम 21 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह माह का विशेष उपाय:- माता शारदा की वंदना करे। लाभकारी रहेगा।

मीन (Pisces) दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची।
 --मीन राशि वाले जातको के लिए इस माह मौजूद वक्त महत्वपूर्ण सफलता हासिल करने का है। भाग्यवश कुछ ऐसा होगा, जिसका आपको लाभ मिलेगा। किसी तरह का जोखिम उठा सकते है।
इस माह संतान पक्ष से बड़ा लाभ या खुशी का समाचार मिलेगा। यदि आप बेरोजगार हैं तो रोजगार सृजन के अवसर आयेंगे। धार्मिक यात्राऐं होंगी। भूमि-भवन के कारण हानि सम्भव। वाहन चलाने में सावधानी रखें। वाहन के क्रय अथवा विक्रय में लाभ होगा। शत्रु पक्ष चाहकर भी हानि नहीं पहुँचा पायेंगा। किंतु शत्रु वृद्धि होगी। धन हानि भी हो सकती है। आपको सूझ बूझ के साथ निर्णय लेना चाहिए। नज़दीकी लोगो से अनुमान से अधिक मदद मिलेगी। व्यवसाय में बड़ी संस्थाओं अथवा उच्चाधिकारियों की मदद मिलेगी। मास में आप कार्य को परिणति तक पहुचायेंगे। भूमि-भवन संबंधी मामलो में गतिविधियाँ बढ़ जायेगी। किसी पुराने मित्र के माध्यम से व्यावसायिक गतिविधियों में माकूल सुधार आयेगा। माता-पिता के स्वास्थ्य के कारण चिंता होगी। उदर विकार, पाचन तंत्र या गैस संबंधी बिमारी परेशान करेंगी। 

इस वर्ष जून माह की 8, 10, 18, 20 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- किसी गरीब को पांच फल दान करे। लाभकारी रहेगा। 
==============================================================

मासिक राशिफल, जुलाई -2014 

==नोट-ध्यान देवें—
यह राशिफल -फलादेश,गोचर तथा नाम राशि के आधार पर दिया गया हैं,पाठक अपनी जन्म कुंडली में स्थित दशा -महादशा एवं ग्रहफल को प्राथमिकता देवें..

शुभम भवतु..कल्याण हो….

लेखक – पंडित दयानंद शास्त्री,मोब.–09669290067 एवं 09024390067 
=======================================================
जिज्ञाशु ज्योतिष प्रेमियों के लिए - कैसे जाने अपना राशिफल..???
यह मासिक कुण्डली पूर्वानुमान जुलाई  2014 वैदिक विश्लेषण चन्द्र राशि आधारित राशिफल है। वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा को अत्यन्त महत्ता दी गयी है। “ चन्द्रमा मनसो जात:” ज्योतिष में चन्द्रमा को मन का कारक माना गया है। चूंकि चन्द्रमा पृथ्वी के सबसे नजदीक ग्रह है। सभी ग्रहों का चुम्बकीय प्रभाव चन्द्रमा के माध्यम से ही पृथ्वी पृथ्वी पर पहुँचता है। मस्तिष्क का नेतृत्व भी चन्द्रमा के द्वारा ही किया जाता है। इन्ही कारणो से भारतीय वैदिक ज्योतिष में चन्द्र राशि को अत्यंत महत्ता दी गयी है। यदि विंशोतरी दशा शुभ चल रही हो तो शुभ प्रभावों में वृद्धि हो जायेगी, अन्यथा यह क्रम विपरीत होगा। आपके जन्म समय चन्द्रमा जिस राशि में थे, वही आपकी राशि कहलायेगी, अत: दिये गये बारह राशियों के राशिफल को तदनुरुप ही अपने लिए माने। प्रत्येक राशि के साथ आपका प्रारंभिक नाम जन्माक्षर दिया जा रहा है अत: जन्माक्षर अनुसार ही अपना राशिफल पढ़े। सम्पूर्ण शुभकामनाओं सहित। 
=============================================================== 
मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ।---
वृषभ (Taurus) उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो। ---
मिथुन (Gemini) क, की, कू, घ, ड, छ, के, को, हा।---
कर्क (Cancer) ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो।----
सिंह (Leo) मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे।---
कन्या (Virgo) टो, पा, पू, ष, ण, ठ, पे, पी।---
तुला (Libra) रा, री, रू, रे, ता, ती, तू, ते----
वृशिचक (Scorpio) तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू।---
धनु (Sagittarius) ये, यो, भ, भी, भू, धा, फा, ढा, भे।----
मकर (Capricorn) भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, ग, गी।---
कुंभ (Aquarius) गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा। ---
मीन (Pisces) दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची।----
==================================================

मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ।
इस माह कारोबार की योजनायें सफल होंगी। धन की आवक अच्छी होगी। शत्रु-पक्ष से सावधान रहें। राजकीय कार्यों में लाभ होगा। स्थान परिवर्तन योग। पारिवारिक विवाद की स्तिथियाँ आयेंगी। विधार्थी वर्ग हेतु माह अनुकूल सिद्ध होगा। माता के स्वास्थ्य के कारण चिन्तित रहेंगे। सफलता आपके कदम चूमेगी। मासांत में विदेश यात्रा का योग भी निर्मित होगा।बेरोजगार लोगों  को रोजगार के अवसर मिलेगे। क्रोध व भावुकता मे लिये गए निर्णय कष्टकारी होगा। रूपये-पैसे के लेन देन मे सावधानी रखे। 
मेष राशि वालों के लिए यह माह विद्या व उन्नति देने वाला रहेगा। पत्नी से लाभ मिलेगा। यात्रा सोच समझ कर करें। किसी भी प्रकार की हानि हो सकती है। आर्थिक परेशानी आ सकती है। परिवार का पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें। व्यापार मध्यम रहेगा। जीवन शैली में महत्वपूर्ण बदलाव आयेगा। अत्यंत सावधानी से कार्य को करना होगा। स्वास्थ्य  की दृष्टि से पूर्वार्द्ध थोड़ा कष्टप्रद है। रिश्तेदारों के कारण घोर निराशा उत्पन्न होगी। जीवन साथी के स्वास्थ्य के कारण चिन्तित रहेंगे। भार्इ-बहनो से वांछित सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य सामान्यत: ठीक रहेगा। इस वर्ष जुलार्इ माह में 9, 17, 19 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह  का विशेष उपाय:- माता लक्ष्मी के समक्ष शुद्व घी का 5 बत्तियों वाला दीपक प्रज्वलित करे। लाभकारी रहेगा।  

वृषभ (Taurus) उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो। 
इस माह तीर्थ स्थलों के भ्रमण का कार्यक्रम बन सकता है। नवीन कार्य योजनाओं पर कार्य करेंगे। स्त्री की सलाह लाभप्रद होगी। राजकीय कार्यों में अवरोध आयेंगे। कार्य स्थान पर सहकर्मियों का वांछित सहयोग मिलेगा। कोर्ट कचहरी के कार्यों में विजय मिलेगी। कुछ मतभेदो के कारण कार्य योजना में व्यवधान आयेगा। नजदीक-दूर की यात्राओं का आधिक्य रहेगा। पारिवारिक मामलों में उलझने के कारण व्यावसायिक कार्य प्रभावित होंगे। शत्रु पक्ष के कारण चिंता बनी रहेगी।धन पद प्रतिष्ठा मे वृद्वि होगी। शाही खर्च पर नियंत्रण रखे। आलस्य के कारण आप लाभ के अवसर खो सकते है।इस माह में राज्य पक्ष से लाभ मिलेगा। रिश्तेदारों से पूर्ण सहयोग प्राप्त होगा। विद्यार्थियों को लाभ मिलेगा। अचानक कहीं से फायदा मिल सकता है। व्यापार में उन्नति होगी। कृषि कार्य में कम लाभ मिलेगा। दोस्तों के बीच समय गुजरेगा।
 कुल मिलाकर व्यावसायिक दृष्टि से यह माह अच्छा रहेगा। नजदीकी लोगों से ली गयी सलाह कारगर सिद्ध होगी। नवीन लोगों से जुड़ाव होगा। किसी आंतरिक कार्य में बड़ी निराशा होगी। संतान संबंधी सुखद समाचार मिलेगा। खानपान की अनियमितता के कारण स्वास्थ्य प्रभावित होगा। इस वर्ष जुलार्इ माह की 4, 14, 15, 22 एवम 23 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 
इस माह  का विशेष उपाय:- मोती चूर के लड्डू काले कुत्ते को खिलाएं। लाभदायक रहेगा।  

मिथुन (Gemini) क, की, कू, घ, ड, छ, के, को, हा।
इस माह राजकीय कार्यों में सफलता मिलगी। यह माह भाग्योदयकारी रहेगा। भूमि भवन का लाभ मिलेगा। यात्राएँ लाभकारी रहेंगी। व्यापार की स्तिथि अच्छी रहेगी। उत्तरार्ध में आर्थिक तंगी का भी सामना करना पड़ेगा। यदि आप बेरोजगार हैं तो रोजगार के अवसर आयेंगे। सामाजिक एवम धार्मिक कार्यों का आयोजन होगा। नये साझेदारी कार्य योजनाओं का विस्तार होगा।यह माह सम्मान प्राप्ति का रहेगा। वाहन सुख मिलेगा। शत्रु पक्ष पर विजय प्राप्त होगी। पति-पत्नी तालमेल को बनाए रखें। गृहस्थी में तकलीफ आ सकती है। संतान के कारण चिंतित रह सकते हैं। व्यापार सामान्य रहेगा। नौकरी में उन्नति होगी। 
नर्इ-नर्इ योजनायें बनायेंगे। आपकी कोशिश कामयाबी हासिल करेगी। आजीविका हेतु आप नये प्रयोग करेंगे। इस माह सफलता का प्रतिशत भी अच्छा रहेगा। संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। माता के स्वास्थ्य के कारण चिन्तित रहेंगे। कुशल सलाहकारों से निर्णय/परामर्श की आवश्यकता पड़ेगी। दूषित भोजन से सावधान रहें। मानसिक तनाव व क्रोध की स्तिथियाँ भी आयेंगी। निजी जीवन सुखद रहेगा। कुल मिलाकर महीना अच्छा रहेगा। इस वर्ष जुलार्इ माह में 6, 15, 25, 27 एवम 28 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।
इस माह  का विशेष उपाय:- भगवान शिव जी मंदिर मे एक जटाधारी नारियल अर्पित करे। लाभकारी रहेगा। 

कर्क (Cancer) ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो।
इस माह कारोबार में नुकसान की स्तिथियाँ आयेंगी। धन की कमी भी महसूस होगी। यदि आप विधार्थी हैं तो अध्ययन से संबंधी परेशानियाँ दूर होंगी। माता-पिता के स्वास्थ्य के कारण चिन्तित रहेंगे। विदेश यात्रा के प्रबल योग। पारिवारिक कारणों से भाग दौड़ होगी। नवीन कार्य योजना में मित्रों का सहयोग मिलेगा। उत्तरार्द्ध में दैनिक जीवन की जटिलताओं में कुछ कमी आयेगी। व्ययाधिक्य के कारण आय-व्यय का संतुलन बिगड़ेगा। व्यवसाय में बहुत सावधानी से काम करने की आवश्यकता है। मासांत में लोकप्रियता का ग्राफ बढ़ेगा। कार्यक्षेत्र में कठिन प्रतिस्पर्धा में हैं। माता से संबंधों में सुधार आयेगा। 
कर्क राशि वाले जातकों के लिए यह माह धार्मिक अनुष्ठान में खर्च वाला रहेगा। विद्यार्थियों के लिए अवरोध उत्पन्न कर सकता है। पत्नी अथवा मां की सेहत पर खर्च होगा। व्यापार में उन्नति होगी। कृषि लाभ मिलेगा। नौकरी में अधिकारी वर्ग खुश रहेगा। सामाजिक मान सम्मान भी बढ़ने लगेगा। मासांत में सामाजिक रुप से सम्मानित भी होंगे। स्वास्थ्य की दृष्टि से भी मास कष्टप्रद रहेगा। इसका एक कारण अत्याधिक भाग-दौड़ भी हैं। इस वर्ष जुलार्इ माह की 11, 22, 26 एवम 27 तारीखें नेष्टफलदायक है अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- किसी कन्या को बुलाकर सफेदी मीठी चीज खिलाना चाहिए। लाभकारी रहेगा। 

सिंह (Leo) मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे। 
इस माह व्यावसायिक स्तिथियाँ अनुकूल रहेगी। आशातीत सफलता मिलेगी। राजकीय कार्यों में सफलता मिलेगी। सामाजिक क्षेत्र में कुछ वाद-विवाद की स्तिथियाँ उत्पन्न होंगी। रुके हुए कार्यों में गति आयेगी। किसी कानूनी उलझन में फँसने के कारण चिंतित रहेगे। मास पर्यत्न धन की अच्छी आवक रहेगी। वातावरण में बढ़ा बदलाव दिखेगा। आर्थिक सुविधायें बढ़ेगी। मास में जरुरी योजनाओं में संसाधनो की कमी आयेगी।
यह माह नौकरी में पदोन्नति वाला रहेगा। गृहस्थी में तकलीफ रहेगी। पत्नी पक्ष से विरोध की संभावना बनती है। निवास की समस्या के भी योग बनते हैं। कृषि से लाभ। मित्रों से सहयोग। मानसिक तनाव हो सकता है। व्यावसायिक सुधार हेतु आप विशेष प्रयास करेंगे। साझेदारी कार्यों में विशेष लाभ होगा। यात्रा देशाटन का लाभ मिलेगा। उत्तरार्द्ध में अत्याधिक व्यय की सिथतियाँ आयेंगी। स्वास्थ्य सामान्यत: ठीक रहेगा। यदा कदा पारिवारिक विवाद की स्तिथियाँ आयेंगी। मासांत में भाग्य जैसे आपका इंतजार कर रहा होगा। संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। इस वर्ष जुलार्इ माह की 18, 19, 24, 28 एवम 29 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 
इस माह का विशेष उपाय:- किसी धर्म स्थान मे अखरोट का दान करे। लाभकारी रहेगा।

कन्या (Virgo) टो, पा, पू, ष, ण, ठ, पे, पी। 
इस माह रोजगार के नये अवसर सृजित होंगे। शत्रु पक्ष से सावधान रहना चाहिए। भूमि-भवन संबंधी लाभ होगा। विदेश यात्रा का योग। नवीन कार्य व्यवसाय की योजनाएँ बनेंगी जो कि फलित भी होंगी। अनावश्यक कार्यों में भी भाग-दौंड़ होगी। इस माह आप बड़ी चुनौतियों से भी गुजरेंगे। कार्य व्यवसाय में उन्नति हेतु आप हर संभव प्रयास करेंगे। प्रथमार्ध की अपेक्षा उत्तरार्द्ध काफी अच्छा जायेगा। आपका प्रबन्धन उच्च कोटि का होगा। मित्रवर्ग की आपको भरपूर मदद मिलेगी।
यह माह सिद्धी प्राप्ति वाला रहेगा। व्यापार में अच्छा लाभ मिलेगा। भाई को कष्ट होने के योग बनते हैं। पारिवारिक विरोध सहन करना पड़ सकता है। कृषि से हानि। पुराने मित्रों का सहयोग। घर-परिवार में सुखद अनुभूति होगी। कुल मिलाकर यह माह आपके लिए श्रेष्ठ कहा जायेगा। इस माह शत्रु पक्ष भी विवश हो जायेगा। उदर विकार या बैक्टीरिया से सम्बंधित रोगों से सावधान रहना चाहिए। मासांत में आय के स्त्रोत भी बनेगे। इस वर्ष जुलार्इ माह की 5, 14, 24, एवम 26 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय - मनोकामना पूर्ति हेतु गाय का दूध भगवान शिव को चढ़ाएं। लाभकारी रहेगा।  

तुला (Libra) रा, री, रू, रे, ता, ती, तू, ते।
इस माह व्यापारिक गतिविधियाँ अच्छी होंगी। धार्मिक यात्राओं का योग। पारिवारिक सामंजस्य अच्छा रहेगा। भूमि-भवन संबंधी विवाद के कारण कलेश बढ़ेगा। विकास के नये-नये अवसर आयेंगे। भाग्य इस समय आपका अच्छा साथ देगा। आय-व्यय की समानता रहेगी। धार्मिक क्रियाकलापों में बढ़-चढ़कर भाग लेंगे। शत्रु पक्ष चाहकर भी कुछ नही बिगाड़ सकेगा। मित्रवर्ग से लाभ होगा। यह मास आपको विशेष उपलब्धियाँ देकर जायेगा। अवसरों की अधिकता होगी। 
व्यापार में उन्नति होगी। सुख-सुविधा में वृद्धि। नौकरीपेशा को अधिकारी से परेशानी हो सकती है। कृषि में सामान्य लाभ। मित्रों -मनोरंजन में समय व्यतीत होगा। पत्नी से विशेष लाभ। यदि आप नौकरी पेशा है तो प्रोन्नति के कर्इ अवसर आयेंगे। कार्य विस्तार की योजना मूर्त रुप लेगी। संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह कष्टप्रद है। उदर विकार एवम् रक्त विकार से परेशानी होगी। प्रथमार्ध में जहाँ सफलता का प्रतिशत कम होगा वहीं उत्तरार्द्ध व मासांत में मनोनुकूल सफलता मिलेगी। इस वर्ष जुलार्इ माह की 2, 3, 11, 12 एवम 21 तारीखें नेष्टफलदायक है अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह  का विशेष उपाय:-  किसी भी धर्म स्थान मे  पीली सरसों का दान करे। लाभकारी  रहेगा। 

वृशिचक (Scorpio) तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू।
यह माह व्यापार में आय की वृद्धि होगी। भूमि-भवन में निवेश हानिप्रद होगा। नजदीकी मित्र धोखा दे जायेगा। अपेक्षित आय उपरांत भी धन की कमी ही महसूस होगी। साझेदारी कार्यों में लाभ होगा। पारिवारिक सामंजस्य बहुत अच्छा होगा। कर्इ स्थानों की यात्रा होगी। अधिकांश यात्राऐ कार्य व्यवसाय को लेकर होंगी। आशातीत सफलताओं से मन प्रफुल्लित रहेगा। उत्तरार्द्ध में आकस्मिक आय में वृद्धि होगी। मित्र वर्ग से मनोनुकूल समर्थन मिलेगा। आपके कार्य त्रीव गति से हल होने लगेंगे। मानसिक रुप से चिंतित रहेंगे। ऋण लेने की स्तिथियाँ आयेंगी। मासांत में आय के नये स्त्रोत भी विकसित होंगे। 
यह माह सामान्य है। स्त्री पक्ष की स्थिति कमजोर। व्यापार भी सामान्य। नौकरी में तकलीफ आ सकती है। सिर से संबंधी समस्या आ सकती है। कृषि से लाभ। नए मित्रों पर विश्वास ना करें। संतान के स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा। आप सफलता हेतु अत्याधिक श्रम साध्य भी करेंगे। घबराहट, मानसिक चिंता की स्तिथियाँ भी आयेगी। खासकर आप मानसिक दृष्टि से काफी चिन्तित रहेंगे। 
इस वर्ष जुलार्इ माह की 7, 9, 17, 19, 27 एवम 28 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह  का विशेष उपाय - हनुमान जी के मंदिर मे सुंदर काण्ड का पाठ करे। लाभकारी रहेगा। 

धनु (Sagittarius) ये, यो, भ, भी, भू, धा, फा, ढा, भे। 
इस माह कारोबार में वृद्धि होगी। धन हानि या किसी अमूल्य वस्तु की चोरी का भय। राजकीय कार्यों में रुकावट होंगी। परिवार के साथ लम्बी यात्रा होगी। भौतिक सुख-सुविधाओं पर व्यय बढ़ेगा। पारिवारिक माहौल खुशनुमा रहेगा। परिवार के कार्य क्षेत्र में मनोनुकूल समर्थन मिलेगा। संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। पूर्वार्द्ध जहाँ कष्टप्रद रहेगा वहीं उत्तरार्द्ध में मनवांछित सफलता मिलेगा। 
कार्यक्षेत्र में उत्तम सफलता मिलेगी। शत्रु पक्ष से भी लाभ के आसार हैं। सेहत का ध्यान रखें। चिंता बढ़ सकती है। कलह से बचें। व्यापार मध्यम। नौकरी में सफलता मिलेगी। अपार उत्साह से सफलता का प्रतिशत निश्चित बढ़ जायेगा। धैर्य रखें, अन्यथा कार्यक्षेत्र में हानि हो सकती है। उत्तरार्द्ध उपरांत निश्चित ही आपका आत्मविश्वास बढ़ जायेगा। शत्रुओं की वृद्धि से मन चिन्तित रहेगा। किन्ही कारणवश जमापूंजी व्यय करनी पड़ेगी। बड़ा व्यावसायिक निर्णय लेना इस माह हितकर नहीं होगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह कष्टप्रद रहेगा। अनिद्रा, बुखार एवं बैक्टीरिया से संबंधित रोग परेशान करेंगे। किसी बड़े आक्षेप की आशंका। 
इस वर्ष जुलार्इ माह की 3, 5, 13, 15 एवम 24 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- पीला रूमाल हमेशा पास रखे। लाभकारी रहेगा। 

मकर (Capricorn) भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, ग, गी।
इस माह रुके हुए कार्य पूर्ण होंगे। प्रचुर मात्रा में आर्थिक लाभ होगा। कार्य क्षेत्र में वांछित सफलता मिलेगी। स्वास्थ्य प्रभावित होने के कारण चिंता होगी। खासकर जीवन साथी के स्वास्थ्य के कारण चिंतित रहेंगे। नवीन मित्र बनेंगे। मास में कर्इ बार विवाद की स्तिथियाँ आयेंगी। या़त्रा-देशाटन का भरपूर लाभ होगा। धन के लेन-देन में सावधानी रखने की खास आवश्यकता है। आपके व्यवहार के कारण शत्रुओं में वृद्धि होगी। बहुमुल्य पदार्थों में वांछित लाभ होगा। ऋण प्रबन्धन की आवश्यकता पड़ेगी। मित्र-वर्ग का भरपूर सहयोग मिलेगा। आर्थिक दृष्टि से अत्याधिक कठिनता होगी। जटिल परिस्तिथियों में शनै: शनै: सुधार होगा। 
यह माह स्त्री पक्ष से सुख वाला रहेगा। यात्रा लाभप्रद रहेगी। शत्रु पक्ष पराजित होंगे। माता से अनबन के योग हैं। व्यापार ठीक रहेगा। नौकरी में पदोन्नति होगी। व्यावसायिक शत्रुओं के प्रति सावधान रहे। व्यावसायिक प्रतिद्वंदिता के कारण हानि होने की सम्भावना। किसी बड़े कार्यक्रम या आयोजन की रुपरेखा निर्मित होगी। कुल मिलाकर यह माह मिले जुले फल देगा। स्वास्थ्य के प्रति ज्यादा सचेत रहे। 
इस वर्ष जुलार्इ माह की 1, 9, 10, 18 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक है, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- दूध मे चीनी डालकर वट वृक्ष मे डाले। लाभकारी रहेगा।

कुंभ (Aquarius) गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा। 
इस माह व्यावसायिक कार्यों में प्रगति होगी। राजकीय कार्यों में सफलता मिलेगी। उच्चाधिकारियों से वांछित सहयोग मिलेगा। नजदीकी मित्र से धोखा मिल सकता है। पारिवारिक तनाव की स्तिथियाँ उत्पन्न होंगी। मित्रवर्ग से वांछित सहयोग एवम लाभ मिलेगा। प्रथमार्ध जहाँ पारिवारिक दृष्टि से कष्टप्रद था, वहीं उत्तराद्र्व में पारिवारिक शांति बढ़ेगी। मासांत आते-आते कलेशों से मुक्ति मिलेगी। 
कुंभ राशि वाले जातकों के लिए यह माह मिश्रित रहेगा। स्त्री पक्ष से कार्य सिद्ध होंगे। भातृ पक्ष से नुकसान संभव। कार्यक्षेत्र में उन्नति। घाटे की संभावना। व्यापार सामान्य। कृषि में लाभ।साधनों का इस्तेमाल बुद्धिमता से करेंगे। यदि आप विधार्थी है तो प्रतियोगी परीक्षाओं में वांछित सफलता मिलेगी। व्यावसायिक वृद्धि हेतु आप कुछ नया करने की सोचेंगे। कार्य विस्तार हेतु आपकी धन प्रबन्धन की आवश्यकता पड़ेगी, जो कि आप ऋण लेकर पूर्ति करेंगे। साझेदारी आपको लाभ देगी। माह में आप कर्इ साहसिक निर्णय भी लेंगे। शत्रु पक्ष सक्रिय रहने से व्यावसायिक हानि भी संभव। भूमि-भवन संबंधी योजनाये बनेंगी। मासांत में आय के नये स्त्रोत निर्मित होंगे। स्वास्थ्य की दृष्टि से यह माह ठीक-ठाक जायेगा। 
इस वर्ष जुलार्इ माह में 4, 6, 14, 23 एवम 27 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- सरसों का तेल रोटी पर लगाकर कुत्ते को  खिलाएं। लाभकारी रहेगा।

मीन (Pisces) दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची।
इस माह स्वास्थ्य प्रभावित रहेगा। मित्रवर्ग से सहायता मिलेगी। भूमि-भवन संबंधी कार्यों में लाभ होगा। किये गए श्रम का यथेष्ट लाभ प्राप्त होगा। अत्याधिक भागदौड़ होगी। विदेश यात्रा योग। धार्मिक आयोजन में शरीक होने का मौका मिलेगा। पिछले बिगड़े हुए कार्यों में सुधार होगा। यह माह आपको लोकप्रियता भी देकर जायेगा। व्यावसायिक क्षेत्र में आप उच्च कोटि का प्रदर्शन करेंगे। कठोर वाणी के कारण आपको नुकसान होगा। 
यह माह सामान्य है। स्त्री पक्ष से नुकसान की संभावना। कार्य के प्रति लगाव कम रहेगा। विद्यार्थी लाभान्वित होंगे। धार्मिक रूझान घटेगा। व्यापार ठीक। सांसारिक लाभ मिलेगा। व्यवसाय में वांछित वृद्धि होगी। यदि आप नौकरी करते हैं तो आपको प्रोन्नति का अवसर मिलेगा। कार्य-व्यवसाय का विस्तार होगा। जीवन साथी का सहयोग व सान्निध्य मिलेगा। जमा पूंजी की वृद्धि होगी। यह माह श्रेष्ठ व्यावसायिक निर्णय देगा। उच्चाटन, मानसिक अशांति एवं उदर विकार से पीडि़त रहेंगे। वरिष्ठ जनों से मनोनुकूल सहयोग मिलेगा। मासांत में आकस्मिक अत्याधिक व्यय से बजट गड़बड़ा जायेगा। 

इस वर्ष जुलार्इ माह की 1, 3, 13, 19 एवम 22 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह  का विशेष उपाय:- केसर हल्दी का तिलक लगाएं। लाभकारी रहेगा। 

============================================================
मासिक राशिफल, अगस्त -2014 

==नोट-ध्यान देवें—
यह राशिफल -फलादेश,गोचर तथा नाम राशि के आधार पर दिया गया हैं,पाठक अपनी जन्म कुंडली में स्थित दशा -महादशा एवं ग्रहफल को प्राथमिकता देवें..

शुभम भवतु..कल्याण हो….

लेखक – पंडित दयानंद शास्त्री,मोब.–09669290067 एवं 09024390067 
===============================================================
 जिज्ञाशु ज्योतिष प्रेमियों के लिए - कैसे जाने अपना राशिफल...???
यह मासिक कुण्डली पूर्वानुमान अगस्त 2014 वैदिक विश्लेषण चन्द्र राशि आधारित राशिफल है। वैदिक ज्योतिष में चन्द्रमा को अत्यन्त महत्ता दी गयी है। “ चन्द्रमा मनसो जात:” ज्योतिष में चन्द्रमा को मन का कारक माना गया है। चूंकि चन्द्रमा पृथ्वी के सबसे नजदीक ग्रह है। सभी ग्रहों का चुम्बकीय प्रभाव चन्द्रमा के माध्यम से ही पृथ्वी पृथ्वी पर पहुँचता है। मस्तिष्क का नेतृत्व भी चन्द्रमा के द्वारा ही किया जाता है। इन्ही कारणो से भारतीय वैदिक ज्योतिष में चन्द्र राशि को अत्यंत महत्ता दी गयी है। यदि विंशोतरी दशा शुभ चल रही हो तो शुभ प्रभावों में वृद्धि हो जायेगी, अन्यथा यह क्रम विपरीत होगा। आपके जन्म समय चन्द्रमा जिस राशि में थे, वही आपकी राशि कहलायेगी, अत: दिये गये बारह राशियों के राशिफल को तदनुरुप ही अपने लिए माने। प्रत्येक राशि के साथ आपका प्रारंभिक नाम जन्माक्षर दिया जा रहा है अत: जन्माक्षर अनुसार ही अपना राशिफल पढ़े। सम्पूर्ण शुभकामनाओं सहित। 
====================================================
मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ।---
वृषभ (Taurus) उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो। ---
मिथुन (Gemini) क, की, कू, घ, ड, छ, के, को, हा।---
कर्क (Cancer) ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो।----
सिंह (Leo) मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे।---
कन्या (Virgo) टो, पा, पू, ष, ण, ठ, पे, पी।---
तुला (Libra) रा, री, रू, रे, ता, ती, तू, ते----
वृशिचक (Scorpio) तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू।---
धनु (Sagittarius) ये, यो, भ, भी, भू, धा, फा, ढा, भे।----
मकर (Capricorn) भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, ग, गी।---
कुंभ (Aquarius) गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा। ---
मीन (Pisces) दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची।----
==================================================

मेष (Aries) चू, चे, चो, ला, ली, लू, ले, लो, अ ।
इस माह कार्य व्यवसाय की स्तिथिया सामान्य रहेंगी। विधार्थियों को प्रतियोगिता परीक्षा में सफलता मिलेगी। मार्च मास घटना प्रधान रहेगा। सब कुछ अच्छा होते हुए भी अज्ञात भय बना रहेगा। मित्रों का आगमन होगा। संतान से शुभ समाचार मिलेगा। प्रथमार्ध जहां तनावपूर्ण होगा वही उत्तरार्द्ध अच्छा जायेगा। अच्छी आय होने पर भी धन की कमी बनी रहेगी। आंतो के इंफेक्शन या नाभि प्रदेश के आस पास परेशानियाँ होंगी। ऋण लेना पड़ेगा। इस वर्ष अगस्त माह  की 7, 9, 19, 27 एवं 29 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह  का विशेष उपाय:- गणपति जी को दूर्वा अर्पित करे। लाभकारी रहेगा।   

वृषभ (Taurus) उ, ई, ऐ, ओ, बा, बी, बे, बो ।
इस माह सामाजिक मान सम्मान में वृद्धि एवं कार्य क्षेत्र में सफलता मिलेगी। धन की आवक बढ़ेगी। यह माह बड़ा परिवर्तन वाला सिद्व होगा। ऋण लेने की स्थितियाँ भी उत्पन्न होंगी। व्यावसायिक क्षेत्र में कठिनाइयाँ आयेंगी। साझेदारी कार्यो में हानि सम्भव। भूमि-भवन का लाभ होगा। तीर्थ यात्रा सम्भव। स्वास्थ्य के संबंध में सावधानियाँ बरतें। व्यय की अधिकता के कारण भी परेशानियाँ होंगी। इस वर्ष अगस्त माह की 4, 5, 15, 22 एवं 23 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह विशेष उपाय:- शनि चालीसा का पाठ करे। लाभदायक रहेगा।  

मिथुन (Gemini) क, की, कू, घ, ड, छ, के, को, हा।
इस माह में घटनाओं की अधिकता रहेंगी। नवीन कार्य प्रारम्भ होंगे। इस माह कार्य क्षेत्र में बड़ा परिवर्तन होना भी सम्भव है। स्थानांतरण का योग। उत्तरार्द्ध में अकारण ही पारिवारिक विवाद उत्पन्न होंगे। विधार्थियों को शैक्षिक प्रतियोगिताओं में लाभ होगा। किसी नये उपकरण की खरीदारी करेंगे। राजकीय कार्यो में लाभ होगा। कार्य क्षेत्र में विस्तार अथवा शुभ समाचार मिलेगा। स्वास्थ्य की दृष्टि से कठिन समय है।इस वर्ष अगस्त माह की 7, 17, 24 एवं 26 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- गाय को रोटी खिलाए। लाभकारी रहेगा। 

कर्क (Cancer) ही, हू, हे, हो, डा, डी, डू, डे, डो।
इस माह खुशखबरी की प्राप्ति होगी। यह माह कर्इ मायनो में महत्वपूर्ण सिद्व होगा। मित्र वर्ग से सहयोग मिलेगा। संतान के कारण चिंता होगी। खासकर स्त्री वर्ग से लाभ की आशा। न्यायालयी कार्यो में विजय प्राप्त होगी। भूमि संबंधी कार्यो में विजय मिलेगी। मासांत में जटिल परिस्थितिया आने के बावजूद आप स्थितियों को काबू पा जायेंगे। परिस्थितियों में आश्चर्यजनक परिवर्तन दिखेगा। माता के स्वास्थ के कारण चिन्तित रहेंगे। इस वर्ष अगस्त माह  की 3, 11, 13, 20 एवं 27 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- दूध से बनी मिठाई शिव जी को अर्पित करे।  लाभकारी रहेगा। 

सिंह (Leo) मा, मी, मू, मे, मो, टा, टी, टू, टे। 
इस माह स्त्री वर्ग से सम्पर्क लाभकारी सिद्ध होगा। मन में चिंतायें बनी रहेंगी। चोरी का भय रहेगा। मांगलिक कार्यो पर व्यय होगा। यदि आप अविवाहित हैं तो रिश्ते भी आयेंगे। नवीन कार्य का प्रारम्भ होगा। व्यावसायिक मामलो मे तेजी आयेगी। साझेदारी कार्यों से सावधान रहें। लम्बी यात्राएं लाभप्रद होंगी। अचानक कहीं से बड़ी प्राप्ति हो सकती है। कुल मिलाकर माह संघर्षपूर्ण रहेगा। स्वास्थ की दृष्टि से यह माह अच्छा जायेगा। इस वर्ष अगस्त माह की 1, 7, 10, 19 एवं 27 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- काली माता के समक्ष लौंग व कपूर प्रज्वलित करे। लाभकारी रहेगा।


कन्या (Virgo) टो, पा, पू, ष, ण, ठ, पे, पी। 
इस माह मांगलिक कार्यो पर व्यय होगा। लोगो से सम्पर्क बढ़ेगा। कार्य क्षेत्र में वृद्धि होगी। राजकीय कार्यो में सफलता मिलेगी। उच्चाधिकारियों का सहयोग व सान्निध्य मिलेगा। यदि बेरोजगार है तो रोजगार प्राप्ति के अवसर प्राप्त होंगे। मित्र वर्ग का मार्गदर्शन आपके लिए आगे चलकर लाभदायक सिद्ध होगा। कुल मिलाकर माह में लाभ की स्तिथिया निरंतर बनी रहेगी। नवीन कार्य व्यवसाय भी प्रारम्भ होना सम्भव। स्वास्थ सामान्यत: ठीक रहेगा किंतु खानपान का ध्यान रखें। इस वर्ष अगस्त माह की 5, 14, 24 एवं 25 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- शिव चालीसा का पाठ करे। लाभकारी रहेगा।

तुला (Libra) रा, री, रू, रे, ता, ती, तू, ते।
इस माह व्यावसायिक कार्यो में अवरोध उत्पन्न होंगे। जिस कारण मन में खिन्नता का भाव रहेगा। उत्तरार्द्ध में जाकर समस्याओ का समाधान भी होगा। आर्थिक तंगी के कारण परेशान रहेंगे। लोकप्रियता सामाजिक मान सम्मान मे कमी आयेगी। वाहन चलाने मे सावधानी बरतें। मासांत में समस्याओं का समाधान भी निकलने लगेगा। आय-व्यय का संतुलन बिगड़ेगा। निकट सहयोगी के कारण भी परेशानी होगी। बुखार, इंफेक्शन आदि के रोग परेशान करेंगे। इस वर्ष अगस्त माह की 10, 20, 22 एवं 29 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- भगवान लक्ष्मी नारायण के दर्शन करे। लाभकारी रहेगा। 

वृशिचक (Scorpio) तो, ना, नी, नू, ने, नो, या, यी, यू।
इस माह व्यावसायिक क्षेत्र में लाभ की स्तिथिया आयेंगी। विदेश यात्रा योग। आय की अपेक्षा व्यय अधिक होगा। राजनैतिक लोगो से सम्पर्क बढ़ेगा। किसी अज्ञात भय के कारण परेशान रहेंगे। इस माह आपका अधिकांश समय आय वृद्धि पर केन्द्रित होगा। यात्राओं की अधिकता बढ़ेगी। व्यावसायिक यात्राएं लाभप्रद होंगी। भूमि भवन का लाभ होगा। इस माह व्यावसायिक एवं आर्थिक समस्याओं का समाधान भी मिलेगा। भागीदारी कार्यो में लाभ होगा। स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहे। एलर्जी, चर्म एवं पित्त प्रकृति के रोग परेशान करेंगे। इस वर्ष अगस्त माह की 7, 9, 18, 26 एवं 28 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- शिव जी पर शहद चढाए। लाभकारी रहेगा। 


धनु (Sagittarius) ये, यो, भ, भी, भू, धा, फा, ढा, भे। 
इस माह जीवन का बड़ा परिवर्तन आपको देखने को मिलेगा। एक तरफ जहाँ व्यावसायिक लाभ अच्छे होंगे वहीं पारिवारिक विवाद चरम पर होंगे। परिवार में मांगलिक कार्य होंगे। पद-प्रतिष्ठा का लाभ मिलेगा। इस माह आपको अत्यंत सावधानी बरतने की आवश्यकता है, खासकर पारिवारिक मामलों में अन्यथा बड़ी हानि सम्भव। कार्य क्षेत्र में आपकी एकाग्रता उच्च कोटि की होगी। जिद्दीपन के कारण परेशानियाँ जन्म लेती हैं, अत: ध्यान रखें। यदि आप नौकरी करते हैं तो उच्चाधिकारियों से विवाद सम्भव। स्वास्थ्य सामान्यत: ठीक रहेगा। इस वर्ष अगस्त माह की 4, 5, 13, 21 एवं 23 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- बन्दरो को चने खिलाए। लाभकारी रहेगा। 


मकर (Capricorn) भो, जा, जी, खी, खू, खे, खो, ग, गी।
इस माह कार्य व्यवसाय में लाभ की स्थितिया निरंतर बनी रहेंगी। धार्मिक कार्यो में व्यय होगा। नवीन कार्य योजना का प्रारम्भ होगा। स्त्री सुख में वृद्धि होगी। जीवन संगिनि का सहयोग व सान्निध्य मिलेगा। मास कुछ-कुछ शुरुआती परेशानी देगा किंतु तदुपरांत सिथतियाँ सामान्य रहेंगी। आय के नये स्त्रोत विकसित होंगे। मित्र वर्ग में अनावश्यक विवाद भी उत्पन्न होंगे। संतान पक्ष से सुखद समाचार मिलेगा। कुल मिलाकर मास पर्यत्न लाभ की सिथतियाँ बनी रहेंगी। मित्रवर्ग अथवा सलाहकारों की सलाह न मानने के कारण हानि होगी। रक्त चाप, रक्त विकार आदि रोगो के कारण स्वास्थ्य प्रभावित होगा। इस वर्ष अगस्त माह की 8, 11, 19 एवं 28 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह का विशेष उपाय:- माता लक्ष्मी के समक्ष दीपक प्रज्वलित करे। लाभकारी रहेगा।

कुंभ (Aquarius) गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा। 
इस माह आर्थिक उपलब्धिया अच्छी इस माह कार्य व्यवसाय में वृद्धि होगी। धन की स्तिथि अच्छी रहेगी। चिड़चिड़ापन रहेगा। मन में चिंता बनी रहेंगी। भूमि भवन का लाभ होगा। भवन निर्माण की योजना बनेगी। यात्राओं में कष्ट होगा। उच्चाधिकारियों की अनुकम्पा प्राप्त होगी। मित्रवर्ग से सहयोग मिलेगा। व्यावसायिक प्रतिद्वंद्विता से प्रेरित होकर कार्य न करें अन्यथा हानि सम्भव। उत्तरार्ध में कार्यक्षेत्र में बड़े परिवर्तन की योजना आपके मन में रहेंगी। मासांत में वह फलीभूत भी होंगी। भाग दौड़ की अधिकता रहेगी। कुल मिलाकर इस माह कार्य क्षेत्र में एक अच्छी शुरुआत हो सकती है। स्वास्थ्य सामान्यत: ठीक रहेगा। 
इस वर्ष अगस्त माह की 9, 11, 18, 20 एवं 28 तारीखें नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए।

इस माह का विशेष उपाय:- गणपति जी को पान एवं मेवा का भोग लगाये। लाभकारी रहेगा।

मीन (Pisces) दी, दू, थ, झ, दे, दो, चा, ची।
इइस माह कार्य व्यवसाय में स्तिथिया कठिन रहेंगी। कठिन समय होने के कारण परिस्थितियाँ भिन्न होने लगेगी। कुल मिलाकर यह माह घटना प्रधान रहेगा। भ्रम की स्थितियाँ बनी रहेंगी। उत्तरार्ध में कार्य क्षेत्र में अच्छे संकेत दिखेंगे। संतान के कारण कष्ट होगा। नजदीकी रिश्तों में अनावश्यक कड़वाहट आयेगी। धर्म-कर्म में रूचि बढ़ेगी। मासांत में नवीन कार्य प्रारम्भ होगा। सामाजिक मान प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। शत्रु पक्ष के कारण चिन्तित रहेंगे। व्यवसायिक क्षेत्र में नये प्रयोग आंशिक सफल होंगे। साझेदारी मामलों में समस्याये आयेंगी। स्वास्थ्य नरम रहेगा। उदर रोग सम्भव। परिवार के किसी सदस्य के स्वास्थ्य के कारण चिन्तित भी रहेंगे। इस वर्ष अगस्त माह की 2, 12, 20 एवं 22 तारीखे नेष्ट फलदायक हैं, अत: सावधान रहना चाहिए। 

इस माह का विशेष उपाय:- दही गुड़ मिश्रित जल शिव जी पर चढाएं। लाभकारी रहेगा। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

मेरे बारे में

मेरी फ़ोटो
UJJAIN, MADHYAPRADESH, India
Thank you very much.. श्रीमान जी, आपके प्रश्न हेतु धन्यवाद.. महोदय,मेरी सलाह/परामर्श सेवाएं निशुल्क/फ्री उपलब्ध नहीं हें..अधिक जानकारी हेतु,प्लीज आप मेरे ब्लॉग्स/फेसबुक देख सकते हें/निरिक्षण कर सकते हें, फॉलो कर सकते हें.. *पुनः आपका आभार.धन्यवाद.. मै ‘पं. "विशाल" दयानन्द शास्त्री, Worked as a Professional astrologer & an vastu Adviser at self employed. I am an Vedic Astrologer & an Vastu Expert and Palmist. अपने बारे में ज्योतिषीय जानकारी चाहने वाले सभी जातक/जातिका … मुझे अपनी जन्म तिथि,..जन्म स्थान, जन्म समय.ओर गोत्र आदि की पूर्ण जानकारी देते हुए समस या ईमेल कर देवे..समय मिलने पर में स्वयं उन्हें उत्तेर देने का प्रयास करूँगा.. यह सुविधा सशुल्क हें… आप चाहे तो मुझसे फेसबुक /Linkedin/ twitter /https://branded.me/ptdayanandshastri पर भी संपर्क/ बातचीत कर सकते हे.. —-पंडित दयानन्द शास्त्री”विशाल”, मेरा कोंटेक्ट नंबर हे—- MOB.—-0091–9669290067(M.P.)— —Waataaap—0091–9039390067…. मेरा ईमेल एड्रेस हे..—- – vastushastri08@gmail­.com, –vastushastri08@hot­mail.com; (Consultation fee— —-For Kundali-2100/- rupees…।। —For Vastu Visit–11,000/-(1000 squre feet) एवम् आवास, भोजन तथा यात्रा व्यय अतिरिक्त…।। —For Palm reading/ hastrekha–2100/- rupees…।

स्पष्टीकरण / DECLERIFICATION----

इस ब्लॉग पर प्रस्तुत लेख या चित्र आदि में से कई संकलित किये हुए हैं यदि किसी लेख या चित्र में किसी को आपत्ति है तो कृपया मुझे अवगत करावे इस ब्लॉग से वह चित्र या लेख हटा दिया जायेगा. इस ब्लॉग का उद्देश्य सिर्फ सुचना एवं ज्ञान का प्रसार करना है Disclaimer- Astrology this blog does not guarantee the accuracy or reliability of a

हिंदी लिखने में परेशानी/ दिक्कत

हिंदी में केसे टाईप कर/ लिख लेते हें..???(HOW CAN TYPE IN HINDI ..??) -----हिंदी लिखने में परेशानी/ दिक्कत ...???? मित्रों, गुड मोर्निंग,सुप्रभात, नमस्कार.... मित्रों, आप सभी लोग भी हमारी तरह हिंदी में लिखना / टाईप करना चाहते होंगे की मेरी तरह सभी लोग इंटरनेट पर इतनी बढ़िया/ जल्दी हिंदी में केसे टाईप कर/ लिख लेते हें..??? यह कोई खास / विशेष कार्य नहीं हें .. यदि आप लोग भी थोडा सा श्रम / प्रयास/ म्हणत करेंगे तो आप भी एक हिंदी लेखक बन सकते हें.. बस आपको इतना करना हें की मेरे द्वारा दिए गए निम्न लिंक पर जाकर किसी भी शब्द को अंग्रेजी / इंग्लिश में टाईप करना हें, वह शब्द अपने आप हिंदी / देव नगरी या फिर मंगल फॉण्ट या यूनिकोड में परिवर्तित /बदल जायेगा... तो आप सभी लोग हिंदी लिखने के लिए तैयार हें ना..!!! आप में से जिन मित्रों को हिंदी लिखने में परेशानी/ दिक्कत आ रही वे सभी लोग निम्न लिंक का यूज / प्रयोग करें----( ब्लॉग लिखने वाले या फिर आपने वाल पर पोस्ट लिखने वाले)- कुछ लिंक------ -----http://www.easyhindityping.com , -----http://imtranslator.net/translation/english/to-hindi/translation , -----http://utilities.webdunia.com/hindi/transliteration.html , -----http://transliteration.techinfomatics.com, -----http://hindi-typing.software.informer.com, -----http://www.quillpad.in/editor.html, -----http://drupal.org/project/transliteration -----http://www.google.com/inputtools/cloud/try , -----http://www.google.com/transliterate/.... -----http://www.hindiblig.ourtoolbar.com/...... -----http://meri-mahfil.blogspot.com/...... --.--http://rajbhasha.net/drupal514/UniKrutidev+Converter ------मित्रों, मेने आप सभी की सुविधा के लिए कुछ उपयोगी हिंदी टाईपिंग लिंक देने का प्रयास किया हें,जिनका में भी अक्सर उपयोग करता हूँ...मुझे आशा और विश्वास हें की आप भी इनका उचित उपयोग कर( हिंदी में टाईप कर) अपना नाम रोशन करें....कोई दिक्कत / परेशानी हो तो मुझसे संपर्क करें... अग्रिम शुभ कामनाओं के साथ .. आपका का अपना.... पंडित दयानंद शास्त्री मोब.--09024390067

समर्थक