जयपुर में अंतर्राष्ट्रीय वेद संगोष्ठी-

जयपुर में अंतर्राष्ट्रीय वेद संगोष्ठी----
दिनांक ---20 -21 जुलाई,2013 ...

( यह कार्यक्रम पूर्व में-परमार्थ निकेतन आश्रम,ऋषिकेश में होना था किन्तु उत्तराखंड में त्रासदी के बाद इसका स्थान परिवर्तन का दिया गया हें)

विषय---वेद की सर्व्भोमिकता आधुनिक सन्दर्भ में....
स्थान(आयोजन स्थल)---होटल जयपुर पेलेस,टोंक रोड,जयपुर..
आवास स्थल ----होटल लक्ष्मी विलास पेलेस, नारायण सिंह सर्किल,जयपुर....
समय--प्रातः 08 बजे से शाम 06 बजे तक....

प्रवेश शुल्क---रुपये 2000 /-मात्र (दो दिन भोजन ,चाय,नाश्ते एवं आवास व्यवस्था सहित एक वर्ष की ग्लोबल सिनर्जी समिति की मेम्बरशिप )
----रुपये 1500 /- (15 जुलाई तक पंजीयन/रजिस्ट्रेशन करवाने पर)
----रुपये 1000 /- स्टूडेंट/विद्यार्थियों के लिए...

संपर्क करें-----
रोहित चोहान---09928931590 ..
श्रीमती इला सिंह---09829139970 ..
डाक्टर श्रद्धा शेखावत--09351508663 ...
डाक्टर रेणुका राठोड--09828070328
-------------------------------------------------------------------------------
महोदय/महोदया,
हर्ष का विषय है कि ग्लोबल सिनर्जी समिति जयपुर ;रजि0द्ध द्वारा वर्ष
2012 से 2013 तक वेदर्षि डाॅ0 पफतहसिंह की पावन स्मृति में जन्म शताब्दी वर्ष
के रूप में मनाने का संकल्प लिया गया था। इस पावन यज्ञ की पूर्णाहुति के रूप
में ‘वेद की सार्वभौमिकता आध्ुनिक सन्दर्भ में’ विषय पर अन्तर्राष्ट्रीय सम्मेलन
20-21 जुलाई 2013 को आयोजित किया जा रहा है।
परामर्श-दातृ-समिति वेद की सार्वभौमिकता-आध्ुनिक सन्दर्भ में
स्वः डाॅ0 पफतहसिंह एक नाम नहीं अपितु एक संस्था थे। वेदों के भीष्म
पितामह के रूप में सुपरिचित डाॅ0 पफतहसिंह का जन्म गुरुपूर्णिमा सन् 1913 में
पीलीभीत ;उ.प्र.द्ध के एक छोटे से ग्राम भदेंग कंजा में हुआ। सन् 1944 में
बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से वेद में डी.लिट् कर 1945 से राजस्थान के
विभिन्न राजकीय महाविद्यालयों में अध्यापन व प्राचार्यत्व का निर्वहन करते हुए
इस संगोष्ठी में आप सादर आमंत्रित हैं। प्रस्तावित विषय के किसी भी एक बिन्दु पर
कृपया अपने शोध् पत्रा का सारांश हिन्दी ; अथवा अंग्रेजी
में 300 शब्दों में
निम्नलिखित पर प्रेषित करें।
ज्ञतनजप कमअ 10 ज्पउमे दमू
त्वउंद थ्वदजए ैप्रम 12ए 1ण्5 ेचंबपदह इमजूममद सपदमेण् च्ंहम उंतहपदे जव इम 1श् वद ंसस
ेपकमेए मगबमचज जीम समजि उंतहपद पे जव इम 1ण्25श्
द्ध ;
द्ध 27 मई 2013 तक
सारांशों का चयन 10 जून 2013 तक होगा। चयनित
सारांशों के शोध्-पत्रा 25 जून तक अवश्य प्रेषित करें। सम्पूर्ण शोध् पत्रा 2500 शब्दों से अध्कि
न हो।
1. UVK2013@vikas.com
2. prathibhashukla.up@gmail.com
3. drbharatis@yahoo.com
- डाॅ0 रेनुका राठौर, 30 करणी उद्यान तारानगर रोड, झोटवाड़ा, जयपुर
;राजस्थान द्ध।
अथवा निम्न प्रकार से बैंक आपफ बड़ौदा में सीध्े भेज सकते हैं-

;भोजन आवास आदि सहितद्ध
Acconunt Name : GLOBAL SYNERGYSAMATI, Bank Name : BANK OF BARODA,Account Number : 2957 0100 0055 12, IFSC
code:BARB0JHOTWA( Note the ‘zero numeral’ after ‘B’and ‘O’ after ‘H’)
वेद सम्मेलन की विस्तृत जानकारी पर प्राप्त कर सकते हैं।
http://fatahsingh.Vikas.com,
1. वैदिक जीवन दर्शन
2. मानवता को वेदों की देन
3. देव और देवियों का आध्यात्मिक स्वरूप
4. आध्यात्मिक एवं भौतिक दृष्टि से गाय का महत्त्व
5. वैदिक संस्कृति और समाज
6. यज्ञ और श्रम का यथार्थ स्वरूप
7. उपनिषदों का ज्ञान
8. पुराणों का यथार्थ स्वरूप
9. वैदिक उपासना
10. वेद और विश्वकल्याण
11. वैदिक प्रजातन्त्रा
12. वैदिक दर्शन
13. वेद और सौन्दर्य शास्त्रा
------------------------------------------
संपर्क करें-----
रोहित चोहान---09928931590 ..
श्रीमती इला सिंह---09829139970 ..
डाक्टर श्रद्धा शेखावत--09351508663 ...
डाक्टर रेणुका राठोड--09828070328

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

KNOW 400 FREE VASTU TIPS---- -जानिए निशुल्क/फ्री 400 वास्तु टिप्स/उपाय---

आइए जाने की क्या और क्यों होता हैं नाड़ी दोष ???

जानिए नाथ संप्रदाय को, परम सिद्ध नौ नाथों को---