शनि बदलेगा अपनी चाल--

08 जुलाई,2013 को बदलेगा शनि अपनी चाल----
कल सोमवार(08 जुलाई,2013) को कालसर्प और सोमवती अमावस्या के संयोग में शनि अपनी चाल बदलेगा। शनि देव इस महीने में अपनी चाल बदलेंगे। पिछले चार महीनों से टेढ़े चल रहे शनि देव, इस महीने अपनी चाल सीधी कर लेंगे और जो लोग शनि देव से अब तक परेशान थे उनके लिए शुभ समय आ जाएगा।
इसके साथ ही आषाढ़ का आधा महीना पूर्ण हो जायेगा , इसके साथ ही कल ही मिथुन राशि में पंचग्रही योग बनेगा और मिथुन राशि में चन्द्र, बुध, मंगल, सूर्य, गुरू एक साथ होंगें जिसके चलते कोई बड़ी घटना घटेगी , कल ही शनि देव तुला राशि में मार्गी होंगें , इस वर्ष सन की शनि अपनी आखरी व स्थिर चाल में आकर कल से मार्गी और अतिचारी चाल से चलेंगें , जिसके चलते घटनायें घटित होंगीं और बहुधा लोगों को घटनाक्रम समझ नहीं आ पायेगा और घटनायें घटित होती रहेंगीं......
चूंकि वर्तमान में गुरू शनि का पंचम दशम योग चलेगा जो कई मायनों में शुभ होगा , आने वाले विधानसभा चुनाव जो कि कल 8 जुलाई 2013 से लेकर 2 मार्च 2014 तक के बीच में होंगें , मार्गी शनि और मिथुनस्थ गुरू में होंगें एवं शनि के 21 अंश से 23 अंश के बीच होंगें....
8 जुलाई को सबेरे 10 बजकर 44 मिनिट पर शनि मार्गी होंगें , औंर 2 मार्च 2014 तक मार्गी ही रहेंगें , इसके साथ ही शनि का प्रभाव सभी लोगों पर जैसा दिसंबर 2012 , जनवरी 2013 में और 18 फरवरी 2013 तक जैसा रहा था वैसा ही उलट कर वही प्रभाव आ जायेगा, 18 फरवरी से शनि ने जिन लोगों को किंचित राहत दी है वे अब अपनी उस राहत का खात्मा समझें , तथा जिन लोगों को 18 फरवरी के बाद कुछ पीड़ा परेशानी महसूस हुयी हो वे अब सुखद स्थित में आ जायेंगें ,
मार्गी शनि शिवराज सरकार के लिये खराब और कांग्रेस के लिये शुभ रहता है , भाजपा प्रदेश अध्यक्ष नरेन्‍द्र सिंह तोमर की भी शनि की साढ़े साती का यह काल खराब चल रहा है , लिहाजा म.प्र. में शिवराज सरकार का हटना , शनि द्वारा सत्ता परिवतर्न किया जाना, शिवराज और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष नरेन्द्र सिंह तोमर का बहुत बड़ा नुकसान होना सुनिश्चित प्रतीत हो रहा है....
वहीं लोकसभा चुनाव सन 2014 में यदि मार्गी शनि में होते हैं तो कांग्रेस की प्रचण्ड बहुमत से केन्द्र में सरकार बनेगी , लेकिन यदि वक्री शनि के काल में लोकसभा चुनाव हुये तो भाजपा को लाभ मिलेगा और कांग्रेस को नुकसान होगा .....
फर्क केवल अब इतना आयेगा कि 18 फरवरी से पूर्व गुरू वृष राशि में थे और 31 मई के बाद यानि वर्तमान में गुरू मिथुन राशि में है, तदनुसार गुरू के राशि परिवर्तन से ही तमाम फल परिवर्तन भी सभी लोगों के लिये होंगें
यह शनि देव का विशेष संयोग सोमवती अमावस्या और 8 तारीख को बनेगा। अंक ज्योतिष के अनुसार 8 अंक शनि का माना जाता है, इसलिए इस दिन शनि की चाल बदलना बहुत खास रहेगा। शनि के साथ ही दुसरे सितारो के बदलने से देश-दुनिया पर खासा असर पड़ेगा।

शनि इस समय पूर्ण परिपक्व व प्रौढ़ अवस्था में प्रबल होंगें, जिसके परिणाम बहुत शुभ और सुखद होंगें, 2 मार्च 2014 के बाद होने वाले चुनाव विशेषकर लोकसभा चुनाव वक्री शनि में होंगें लेकिन शनि की चाल धीमी मध्यम होने से तथा शनि अतिवृद्ध होने के कारण लोकसभा चुनाव (अप्रेल या मई 2014 में ) में शनि अधिक प्रभाव नहीं डालेंगें अर्थात लगभग निष्‍प्रभावी से रहेंगें.....
इस परिवर्तन के कारन राजनीति में कोई बड़ा उलटफेर हो सकता है। कानून व्यवस्था को चुनौतियों का सामना करना होगा। पेट्रोलियम पदार्थ की कीमतों में लगातार तेजी आती रहेगी। महिलाओं के लिए यह समय अच्छा रहेगा। महिलाओं के हित में कोई बड़ा फैसला आ सकता है। देश की राजनीति में इनका कद बढ़ेगा। परिश्रम और लगन से काम करने वालों के लिए समय अच्छा रहेगा। इन्हें अपनी मेहनत का लाभप्रद परिणाम मिलेगा।
दुनिया में प्राकृतिक आपदा ला सकता है। प्रतिकूल मौसम की वजह से लोगों को कष्ट उठाना पड़ेगा। इस बीच किसी बड़ी दुर्घटना की भी संभावना रहेगी।
9 जुलाई मंगलवार से गुप्त नवरात्रि विधान प्रारंभ होगा, 10 जुलाई से जगन्नाथपुरी रथयात्रा प्रारंभ होगी , 11 जुलाई से मुसलमानों का रमजान का महीना शुरू होगा , 17 जुलाई को भड्डरी नवमी के साथ इस सत्र के अंतिम विवाह समारोह होंगें और शादी विवाहों पर 6 महीने के लिये स्टे लग जायेगा और दीवाली बाद देवप्रबोधनी (देव उठान) एकादशी के साथ पुन: शुरू होंगें , 19 जुलाई को देवशयनी एकादशी है , देवशयनी एकादशी के साथ ही सभी देवतागण और भगवान श्री हरिविष्णु का शयनोत्सव मनाया जायेगा , 22 जुलाई को गुरू पूर्णिमा है , गुरू पूर्णिमा के साथ ही आषाढ़ मास पूर्ण हो जायेगा, भगवान शंकर का शिव शयनोत्सव भी इसी दिन मनाया जायेगा और 23 जुलाई से सावन का महीना लग जायेगा .
जानिए की क्या होगा आपकी राशी पर इस परिवर्तन का-----
मेष---- इस राशि वालों के लिए प्रगति का समय हैं। लंबे समय से चला आ रहा गतिरोध खत्म होगा। रूकावटें दूर होंगी। भूमि, प्रॉपर्टी के मामाले जो रूके हुए थे उनमें गती आएगी। वैवाहिक जीवन सुखद होगा। विचारों में सकारात्मक बदलाव होंगे।
वृष---- इस राशि वालों के लिए समय शुभ रहेगा। धन लाभ के योग बनेंगे। स्वास्थ्य अच्छा रहेगा। यश, किर्ती मिलेगी। प्रशंसा के पात्र होंगे। जोखिम उठाकर जिम्मेदारी पूर्ण व्यवहार से लोगों का दिल और विश्वास जीतेंगे।
मिथुन---- इस राशि वालों के समय शुभ रहेगा। मानसिक चिंताए दूर होंगी। सामाजिक और व्यवहारिक जीवन में चला आ रहा तनाव खत्म होगा। संतान की ओर से शुभ समाचार मिलेंगे। इस राशि के विद्यार्थियों के लिए समय शुभ रहेगा। स्वभाव और विचारों की स्थिरता जीवन को नई दिशाएं देंगी। आपके लिए समया शुभ रहेगा।
कर्क----- इस राशि वालों पर शनि की ढैय्या चल रही है। मानसिक परेशानियां बनी रहेंगी। विचारों को काम में लाने की कोशिश करें। योजनाएं जो बना रखीं हैं उन पर काम शुरु करें। आप अपने ही लोगों के बीच खुद को अकेला महसुस कर सकते हैं। एकांत में रहना चाहेंगे। भूमि, भवन और वाहन संबंधी कामों या वस्तुओं में आपको लाभ मिलेगा। खुद को बिजी रखें तो लाभ होगा। यात्राओं का योग बनेंगा।
सिंह----- परिश्रम और पूरूषार्थ से लाभ मिलेगा। आपके लिए शनिदेव का सीधा चलना लाभ देने वाला रहेगा। समय आपके लिए शुभ और अनुकूल रहेगा। नए काम-काज या नई योजनाएं सामने आ सकती है। धन लाभ के योग बनेंगे। मित्रों और सहयोगियों से लाभ मिलेगा। परिवार और पिता से मानसिक रूप से अलग महसुस करेंगे। कोशिशों में कमी नहीं रखें।
कन्या---- कन्या राशि वालों वालों के लिए धन लाभ के योग बनेंगे। वाणी की बजाय कर्म पर ध्यान दें। कम प्रयासों से सफलता मिलेगी गूढ़ चिंतन से लंबे समय समय के महत्वपूर्ण काम पूरे होंगे और महत्वपूर्ण व्यक्तियों से संबंध बनेंगे। पूराने रूके काम पूरे होंगे। पैसा मिलेगा और आलस्य से दूर रहें।
तुला---- धर्मानुकूल आचरण से लाभ होगा। प्रतियोगी परिक्षा में सफलता मिलेगी। कार्यक्षेत्र में रूकावटें दूर होगी। कामों में गति आएगी। धन लाभ होगा। बड़ी और लंबे समय की योजना लाभ देने वाली होगी। अचानक यात्रा होने के योग हैं। बाहरी संबंध लाभदायक रहेंगे।
वृश्चिक----- इस राशि वालों के लिए परेशानियों का दौर खत्म हो जाएगा। आर्थिक रूप से समय अनुकूूल है। अभी होने वाला खर्चा आने वाले समय में आपके लिए लाभ देने वाला रहेगा। मातृ सुख में कमी आने के योग हैं। वाणी का प्रयोग सोच-समझकर करें। ऋण से उन्नती होने के योग हैं। आपके काम धीमी गति से पूरे होंगे।
धनु----- इस राशि वालों के लिए समय अच्छा रहेगा। सही मौके पर काम कर के धन लाभ प्राप्त करने में सफल रहेंगे। नए मौके और अच्छे अवसर सामने आएंगे। नए संबंध बनेंगे और संबंधों से लाभ मिलेगा। धन भी बढ़ेगा। मितव्ययी या कंजुस हो सकते हैं। अचानक लाभ के योग भी बनेंगे।
मकर----- इस राशि वालों को कार्यक्षेत्र में उन्नति मिलेगी। यात्राओं का योग बनेगा। काम काज में इतने बिजी हो जाऐंगे कि पारिवारिक जीवन में सामंजस्य बनाना मुश्किल हो जाएगा। खुद को बिजी रखना आपके लिए जरूरी भी रहेगा। आपको धीरे-धीरे लाभ मिलेगा। पिता से सहयोग मिलेगा। मान सम्मान और धन लाभ के योग बनेंगे। नई योजना और नए प्रस्ताव सामने आएंगे। कुल मिलाकर आपके लिए समय शुभ रहेगा।
कुंभ-----इस राशि वालों के पैतृक सुख में अनुकूलता होगी। साकारात्मक विचारों से आगे बढ़ें। धन लाभ के योग हैं। रूके हुए काम पूरे होंगे। बाहरी स्थानों से संबंध बनेंगे। मित्रों से शुभ समाचार मिलेंगे। यात्राओं से लाभ होगा। आपके लिए दिन अच्छे रहेंगे।
मीन----- इस राशि वालों की परेशानियां खत्म होंगी। विचारों की गोपनियता बनाएं रखें। भूमि-भवन संबंधी लाभ होगा। सुखद बदलाव होंगे। माता के सहयोग या माता के साथ रहने से मानसिक शांति मिलेगी। गुप्त काम खत्म होंगे और गुप्त रोग भी खत्म हो जाएंगे। मीन राशि वालों को रूका धन मिलेगा।
शुभम भवतु..कल्याण हो...जय शनि देव....

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

KNOW 400 FREE VASTU TIPS---- -जानिए निशुल्क/फ्री 400 वास्तु टिप्स/उपाय---

आइए जाने की क्या और क्यों होता हैं नाड़ी दोष ???

भक्ति और शक्ति का बेजोड़ संगम हैं पवन पुत्र हनुमान जी--