अभिव्यक्ति... मेरे विचारों- भावों कि..

अभिव्यक्ति... मेरे विचारों- भावों कि..

बस एक बार मुझे बता दो ना .!!!

===( Valentine day के उपलक्ष्य पर).....===( पं. "विशाल"दयानन्द शास्त्री...)

बस एक बार सनम मुझे तुम बता दो न... 
              तुम भी करते हो मुझसे प्यार "विशाल" यह समझा दो ना  ,,

करता है बेचिन हर पल यह नादाँ है क्या करूँ... 
              दहड़काएँ तुम्हारी भी हैं व्याकुल दिल को "विशाल" बता दो  ना  ,,

खवाब आते  नहीं  हैं तो न करना  शिकायत  मुझसे  तुम... 
              रातों को जागने कि तो अब  तुम "विशाल"  मुझे सज़ा दो ना  ,,,,

ज़िन्दगी  से  न  कोई शिकवा है, न  कोई  ख्वाब  हमारा ,
राह चलती  एक  दास्ताँ  है , एक  कारवां हमारा...,
ज़िन्दगी ने लिए कितनी ही करवटें...,
फिर भी हमें मिली मंज़िल और वो "विशाल" मकान हमारा.....

हर पल हसके जिया करते हैं...
तुमसे दिल कि हर बात छुपाया करते हैं..
तुम खास हो हमारे लिए...
बस यही एहसास खुद मैं "विशाल" बसाया करते है...,

कलम में यही ज़ेहन में बनकर ख़याल बस जाओ अब... 
              महफ़िल ऐ शायरी में बिना जाये शायर "विशाल" बना दो ना. ,,,, 

बस एक बार सनम मुझे तुम बता दो  न... 
              तुम भी  करते हो मुझसे प्यार यह "विशाल" समझा दो  ना  ,,,,

चाहत कि बरसात में भीग जाने को तरसती है मोहब्बत...
              ज़ुल्फ़ों को बिखरा कर घटाएं "विशाल" उन्हें बना दो  ना  ,,,,

बहुत ही गहरी हैं झील जैसी तुम्हारी निगाहें सनम... 
              उभर ना पाऊँ कभी मैं इतना "विशाल" उनमें डूबा दो ना  ,,,,

===( Valentine day के उपलक्ष्य पर).....
===( पं. "विशाल"दयानन्द शास्त्री...)
===============================================================

रुकता नहीं हें प्रेम...

===( Valentine day के उपलक्ष्य पर).....===( पं. "विशाल"दयानन्द शास्त्री...)

नहीं रुकता प्रेम
कभी भी
नहीं ...
कभी थमता भी नहीं
कि बिना संवाद के भी
जारी है "विशाल"
निरंतर संवाद !

मौन की भाषा
पढ़ती हैं आँखें
मौन के संवाद
बोलती हैं आँखें
और सुनता है ह्रदय "विशाल"
मौन की गूँज को
कि नहीं रुकता प्रेम
कभी भी "विशाल"
नहीं...
कभी थमता भी नहीं ....!
============================================================

आवश्यकता थी एक गर्ल फ्रेंड की...(हास्य -व्यंग कविता)

( Valentine day के उपलक्ष्य पर).....बुरा न माने और ध्यान से पढ़ें..!!!
(--पं. "विशाल"दयानन्द शास्त्री...)

पद : जूनियर गर्लफ्रेंड/सहायक प्रेमिका
अनुभव : कम से कम दो लडको की गर्ल फ्रेंड रह चुकी हो,
तथा गर्ल फ्रेंड के सभी दायित्वों में पारंगत हो !
आयु : 18-25 वर्ष (अगर कोई लड़की/महिला दिखने में
अच्छी है , और ज्यादा उम्र होने के वावजूद इसी उम्र
की लगती हो , तो वह अप्लाई कर सकती है)
लाभ तथा मानदेय :- सकल मासिक (Gross Monthly)
• 1 उपहार प्रति महिना (अधिकतम मूल्य Rs 1000) –
(कोई मूल्यवान धातु जैसे सोना, चांदी या बहुमूल्य रत्न
जैसे हीरा इत्यादि की अपेक्षा न रखे)
• लक्ज़री बाइक में मुफ्त सवारी , (अधिकतम १
घंटा प्रतिदिन).
• कुल्फी / आइसक्रीम/ चोकलेट , प्रतिदिन
• प्रतिदिन Rs 50-100 के समकक्ष मुफ्त नाश्ता जैसे
समोसा / ब्रेड पकोड़ा इत्यादि
• मुफ्त मूवी (ऊपर कोने वाली सीट पर ) हर रविवार !
• महीने में एक बार मुफ्त ‘’ब्रांडेड जीन्स /टी-शर्ट ‘’
अथवा ‘’स्कर्ट / टॉप ‘’ अथवा ‘’डिज़ाइनर परिधान’’
पसंदानुसार (लेकिन पिछले महीने का आचरण संतोष जनक
होने पर ही यह सुविधा उपलब्ध है )
• मिस्ड कॉल करने के लिए , फ़ोन चालू रखने हेतु Rs 100
का रिचार्ज प्रति महिना !
प्रतिवर्ष एक नवीनतम स्मार्ट फ़ोन , जैसे IPHONE
या Galaxy S4 , दिया जायेगा, तथा ऊपर
लिखी सभी सुविधाए अनलिमिटेड रूप से प्राप्त होंगी!
स्थायी होने के बाद वर्ष में दो बार हीरा या सोना के
जवाहरात दिए जायेंगे !
जो लडकियाँ इस ऑफर के लिए अपने आपको उपयुक्त
नहीं मानती है ,
उन्हें मन छोटा करने की कोई जरूरत नहीं है !
वो ‘’Suggest a friend” सुविधा का लाभ उठा कर
अपनी सहेलियों को Suggest कर सकती है।
प्रत्येक सफल रिफरेन्स पर उन्हें फाइव स्टार होटल में लंच
अथवा कैंडल लाइट डिनर , उपहार / कृतज्ञता स्वरुप
कराया जायेगा !
कृपया इस विज्ञापन के अन्दर आज ही अपना बायो-
डाटा के साथ आवेदन करे !

(बिना फोटो कोई आवेदन स्वीकार नहीं किया जायेगा)
नोट-हमारी कोई अन्य शाखा नही हें ..

--पं. "विशाल"दयानन्द शास्त्री...

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

KNOW 400 FREE VASTU TIPS---- -जानिए निशुल्क/फ्री 400 वास्तु टिप्स/उपाय---

आइए जाने की क्या और क्यों होता हैं नाड़ी दोष ???

भक्ति और शक्ति का बेजोड़ संगम हैं पवन पुत्र हनुमान जी--