कुछ सरल एवं आसान उपाय जो आपकी जीवन (जिंदगी )में लाभकारी होंगे

कुछ सरल एवं आसान उपाय जो आपकी जीवन (जिंदगी )में लाभकारी होंगे..........

==पंडित "विशाल" दयानंद शास्त्री के अनुसार---

=====क्या आप  दिन ब दिन ऋण के बोझ तले दबते जा रहे हे,इसी कारण आपका मन बहुत उदास रहता हे तो यह उपाय करे---
सात सोमबार सफ़ेद तिल को बहते हुवे नदी या तालाब में प्रवाह कर दे  ....

====क्या आपको लगता हे की लाखो कौशिश  करने के बाद भी आप लोगो का आदर नही पाते,लोग ताना मारते हे आप पर तो यह उपाय करे----
एक पान की पत्ते पर थोड़ा सा फिटकरी और सिंदूर बांधकर बुधवार की सुवह या शामको पीपल के पेड़ के निचे किसी बड़े पत्थर से दबा दे,यह कार्य तीन बुधवार तक करे 

===क्या आपको नौकरी नही मिल रही ,काफी दिनों से यहाँ वह  काम के  चक्कर में भटक रहे हे तो यह  उपाय करे----
किसी भी गुरुवार के दिन (शुक्ल  पक्ष)एक पीले वस्त्र  पर अपनी अनामिका ऊँगली प्रोयोग करके केशर और सिंदूर की स्याही से 63 नंबर लिख कर उसे माँ लक्ष्मी के चरणों पर अर्पण करदे.यह प्रयोग  आपको शुक्ल  पक्ष की तीन गुरुवार तक करना हे.....

===यदि आपको लगता हे की किसी ने आप पर नजर लगाई हे और तब से आपका शरीर ठीक नही रहता तो यह उपाय करे---
शनिवार  के दिन एक काले वस्त्र से उड़द  दाल को बांधकर नदी में प्रवाह करदे ,नही तो शनि मंदिर पर चढ़ा  दे...(तीन शनिवार तक )

====यदि आप बाहन लेने की सोच रहे हे पर कुछ हो नही पा रहा हे तो यह  उपाय करे शुक्ल चतुर्थी के दिन भगवन गणेश जी को एक जोड़ा नारियल में अपने अनामिका ऊँगली का प्रोयोग करके केशर से स्वस्तिक का चिन्ह बनवाकर गणेश जी के चरणों में अर्पण करे और अपनी मनोकामनाए कहे .....यह कार्य आपको ४ शुक्ल चतुर्थी को करना हे ..
====अगर आप बार बार मेहनत  करने पर भी कार्य में सफल नही हो पा रहे हे और आपका आत्मविश्वास बार बार धोका दे रहा हे तो तो यह उपाय करे---
----अपने हाथ से सोमवार  के सुवह खीर बना ले (सिर्फ अपने हाथ से ) और रस्ते में जाते वक्त उस खीर को किसी अंग हिन् व्यक्ति को दान करदे .यह कार्य आप साथ सोमवार तक करे ....


======अगर कोई कार्य में बार बार प्रयाश करने पर  भी आपको सफलता नही मिल रही हो तो यह उपाय करे किसी भी पूर्णिमा के दिन एक लाल चुनरी पर ३ लॉन्ग तिन कफूर का दाना अच्छे से लपेटकर लक्ष्मी जी को चड़ा दे ..अगर नही हो पा रही हे तो शामको ले जाकर पूर्व की तरफ मुह  करके नदी में प्रवाह कर दे ...(३ पूर्णिमा)

=====अगर आप में  कुछ करने के आगे पहले तो जोश रहता हे पर बाद में जोश नही रहता या आत्मविश्वास में बहुत कमी आ गयी हे ,आप हमेसा डरे-डरे में रहते हे तो यह उपाय करे, अमावस  के दिन तिन गोल निम्बू पर केशर और सिंदूर से  तिन टिका लगाकर उसे एक साथ अपने सर के  सात बार घुमाकर (चक्कर) घडी के बिपरीत दिशा पर घुमाकर किसी चोराहे पर रख दे  ...
================================================
अगर आपके संतान प्राप्ति में बहुत बाधा उत्पन्न हो रही हे तो यह  उपाय करे....
==पंडित "विशाल" दयानंद शास्त्री के अनुसार---

===कृष्ण पक्ष  के अष्टमी के दिन चांदी की लड्डू  गोपाल जी को मीठे दही द्वारा  नहाने से संतान की मनोकामना पूर्ण होती हे .....(07 अष्टमी )

==गाय  के बछड़े को 21 शुक्रवार तक रोटी के साथ गुड़ मिलाकर खिलने से भी संतान सुख परापती होती हे
==गणेश भगवान को 7 बुधवार तक सुध घी के दीपक से पूजन करके केशर और सिंदूर द्वारा उनके सामने एक पान की पत्ति पर स्वास्तिक का चिन्ह बनवाकर उनके सामने बैठ कर गणेश स्त्रोत का पाठ करे  ==नीम के जड़ को पिला बस्त्र से बाँध कर कुछ दिन घर के उत्तर पूर्व के कोने पर रख दे ......

==केले की पत्ति पर कच्चा हल्दी से गुरूवार के दिन पर अपनी मनोकामना लिख कर नदी में प्रवाह कर दे ......(7 गुरुवार )
==================================
सुखी और खुशहाल गृहस्थ जीवन बिताने के लिए कुछ विशेष उपाय---.

==पंडित "विशाल" दयानंद शास्त्री के अनुसार---

===पहले आपको देखना होगा की आपके घर पर किसी खट्टे पेड़ की छाया तो नही पड़ रही  हे ,अगर पड़ रहा हे तो तत्काल इसका  बचाव करे ..

===पहले आपको देखना होगा क्या आपका पलंग दक्षिण पूर्व के कौन में तो नही हे ,यह पति पत्नी के बिच में  गलत फहमी के साथ साथ घर पर लड़ाई झगडे  तथा मन मुटाव का कारन बनता हे...

===आपको देखना होगा क्या आपके घर के दिवार पर अचानक दरार पड़ना शुरू  हो गया हो ,ये घर में  अचानक हानि ,क्रोध की आधिक्य ,दुर्घटना के साथ साथ ऋण बड़ाता हे .

====आपको देखना होगा क्या आपके घर में ऊत्तर पूर्व का कोना दक्षिण पूर्व के अनुपात कमती लम्बा या छोड़ा तो  नही हे .....याद रखे ये दोष घर के बड़े आदमी के  स्वास्थ  पर अत्याधीक  बुरा असर करता हे,घर में लोग कभी भी शांति से नही रह पाएंगे...

===क्या आपके घर में  दक्षिण पश्चिम के कोने  पर द्वार (गेट) हे तो यह एक बहुत बड़ा वास्तु दोष  हे इसके  कारण घर के लोग कभी आपस में मिल नही पाते,घर  में बहुत आमदनी होने के बाद में भी पैसा टिक नही पाता,घर के बड़े बड़े लोग बच्चे हमेसा बाहर ही रहने लगेंगे घर पर आने का मन नही करेंगे ....

===क्या आपके घर के किच्चन पर आपका पूजा का स्थान हे ?
यह अत्यंत बड़ा वास्तु दोष हे इसे तत्काल हटा दे या किसी चीज से पार्टीसन कर दे (रसोईघर सदेव दक्षिण पूर्व के कौन में होना चाहिए)

===क्या आप भोजन करते समय कभी कभी पलंग के ऊपर बैठकर खाते हे ?
यह एक बहुत बड़ा गंभीर वास्तु दोष हे .....
=================================================
जानिए कुछ छोटे छोटे उपाय मेरे अनुभूत जो अच्छे और अचूक फल देते हे----

==पंडित "विशाल" दयानंद शास्त्री के अनुसार---

===क्या आपको लगता हे की बार बार कष्ट करने के बाद भी आपका प्रोमोसन  नही हो पा रहा हे, आपकी तरक्की भी नही हो पा रही हे, तो यह उपाय  करे..... किसी भी दिन ऑफिस पर जाते वक्त एक टुकड़ा कपूर  पर सुद्ध घी का लेप लगाकर बहते हुवे नदी या झरने में  प्रवाहित  कर  दे  काम पूरा होगा

===क्या आपके  आत्मबिश्वास  में दिन ब दिन गिरावट आ रही हे तो यह प्रयोग  करे.... एक पीपल के पत्ते पर केशर और सिंदूर  से अपनी अनामिका ऊँगली प्रोयोग करके राम राम राम लिख कर मंगल वार के दिन बहते हुवे नदी या झरने में प्रवाहित कर दे,यह उपाय तीन दफा करना हैं..

===क्या दिन ब दिन आपका खर्च बड़ रहा हे ,या आप धन जमा नही कर पा रहे हे तो एक काम करे गुरु वार के दिन माता लक्ष्मी  को केशर,लाल चन्दन,लाल पुष्प,और एक लाल चुनरी चड़ाकर सुद्ध घी का दिया जलाकर उन्हें पूजन करे,उसके  पश्चात्  वो चुनरी आपको ले आना हे,उसे अपनी गोदरेज या अलमिरह पर  सन्मान पूर्वक रखना हे 

===क्या आपकी  गाड़ी या कोई भी मशीनरी चीजे दिन बा दिन खराब होते जा रहे हे और आपको समझ में नही आ रहा हे क्या करे तो एक उपाय करे .........पहले तो अपना घर की छत साफ़ करे,उसके बाद में कार को कभी भी उत्तर पच्छिम की दिशा पर न रखे,साथ में और यह उपाय करे .तीन  शनिवार काले तिल को बहते हुए  जल/नदी में प्रवाह कर दे  

===क्या आपके गहने  बहुत अधिक दर्द करते हे, दबाई भी असर नही दिखाती तो एक ऊपर  करे.... 
दवाई लेते  वक्त आपका मुह  सदेव पूर्व  की तरफ हो ,...अपना बेड़/बिस्तर  या पलंग अगर दक्षिण पूर्व की तरफ हो तो उसे तत्काल चेंज  करे और साथ में ये उपाय करे ..

मंगलवार के दिन एक लाल वस्त्र  पर थोडा सा गुड और चने बांध कर हनुमान जी की  चरणों पर चड़ादे  
==यदि आपको लगता हे की आप जितना भी करे घर की उत्तर पूर्व में दोष बना हुआ  हे तो पीले  वस्त्र  से एक टुकड़ा कच्चा हल्दी को लपेट कर उत्तर पूर्व के कोने में रख दे,दोष  दूर हो जायेंगे 

===क्या आपको लगता हे लाखो कौशिश  करने के बाद में भी  आपका बचत नही हो पा रहा हे तो यह उपाय (काम) करे----अपने गोदरेज में एक पिला वस्त्र से थोडा सा सोना लपेट कर  रख दे बचत बनी रहेगी

===क्या आपको पता हे घर की पूर्व में ज्यादा कील ठोकने से घर के मुखिया को बहुत कष्ट  होता हे 

====क्या आपका रसोईघर, बेडरूम के पास हे (क्यू की किसी किसी के घरमे ज्यादा कमरे नही होते) तो यह एक उपाय करे....
रसोईघर के उत्तर पूर्व में अगर नही हो पाए तो उत्तर में थोड़ा सा शहद भरकर चांदी की कोटोरी या किसी पात्र पर रख दे 

==== क्या आपका  मुख्य प्रवेश द्वार दक्षिण पूर्व के कौन पर हे...
यह एक बहुत ही  भयानक वास्तु दोष  हे ,इसके  कारण घर में अकस्मात् दुर्घटना होने का भय रहता हे....
यह उपाय करे एक जोड़ा बंसी को  एक लाल बस्त्र से द्वार  के ऊपर बांधकर लटका दे दोष काफी हद तक दोष  समाप्त हो जायेगा

===अगर आपके बच्चे का पढ़ाई में मन नही लगा पा रहे तो उन्हें हरे रंग के कमरे में पढने को दे साथ ही रूम के उतर की दिवार पर बहते हुवे झरना या शांत सौम्य हरे भरे  पेड़ पौधे की पिक्चर लगा दे 

===अगर आप की मु के कारन किरकिरी या लड़ाई होती हे तो सुवह उठकर जीभ  से थोडा शहद चख ले और मिश्री से अपना दांत साफ़ करे ...
  
===अगर आपको रात में बहुत डर लगता हे ,या कोई अज्ञात डर सताता रहता हे तो अपने सर के नजदीक एक चांदी की कटोरी पर थोड़ा सा सौंफ (पान जीरा ) रख कर उसे ढक कर सो जाये 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

KNOW 400 FREE VASTU TIPS---- -जानिए निशुल्क/फ्री 400 वास्तु टिप्स/उपाय---

आइए जाने की क्या और क्यों होता हैं नाड़ी दोष ???

भक्ति और शक्ति का बेजोड़ संगम हैं पवन पुत्र हनुमान जी--